पुलवामा हमला: पीएम बोले- व्यर्थ नहीं जाएगा जवानों का बलिदान, कल कश्मीर जाएंगे राजनाथ सिंह

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर इस हमले की निंदा की है। पीएम ने कहा, ‘पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुआ हमला बेहद घृणित है। मैं इस कायराना हमले की कठोर निंदा करता हूं। हमले में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द ठीक हों।’

पीएम मोदी ने बताया कि उन्होंने इस मामले में सुरक्षा एजेंसियों के टॉप ऑफिसर और गृह मंत्री राजनाथ सिंह से इस पूरे मामले पर विस्तार से जानकारी ली है।

वहीं हमले के बाद केंद्र सरकार ऐक्टिव मोड में आ गई है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, सीआरपीएफ के डीजी आर आर भट्नागर से बात की। राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को पटना में होने वाली रैली कैंसल करते हुए कश्मीर का दौरा करेंगे। वहीं राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने सीआरपीएफ के सीनियर अधिकारियों से पूरे घटनाक्रम पर जानकारी ली। डोभाल पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं।

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट कर इस हमले की निंदा की, साथ ही कहा कि इस हमले का बदला लिया जाएगा। बता दें कि जम्मू-कश्मीर पुलवामा जिले में गुरुवार शाम हुए एक बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 30 जवान शहीद हो गए हैं। शहीद जवानों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। उरी में सितंबर 2016 में हुए आतंकी हमले के बाद कश्मीर में यह सुरक्षाबलों पर अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला है। गुरुवार को श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर स्थित अवंतिपोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले को निशाना बनाया।

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि आदिल अहमद डार नाम के आतंकी ने इस काफिले पर हमले की साजिश रची थी। आदिल पुलवामा के काकापोरा इलाके का रहने वाला है। सीआरपीएफ की 54वीं बटैलियन के जवानों को इस हमले में आतंकियों ने निशाना बनाया। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ के अनुसार, गुरुवार शाम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों पर अवंतिपोरा के गरीपोरा के पास हमला किया गया।