कश्मीर में सुरक्षा में मद्देनजर रेलसेवा चौथे दिन भी निलंबित

कश्मीर के दक्षिणी इलाके में सोमवार को सुरक्षा में मद्देनजर और अनंतनाग लोकसभा सीट पर तीसरे और आखिरी चरण के मतदान के लिए लगातार चौथे दिन रेलसेवायें निलंबित कर दी गयी।

अनंतनाग लोकसभा के लिए मतदान पुलवामा और शोपियां जिले में किया जायेगा। जॉइंट रेसिस्टेंस लीडरशिप (जेआरएल) ने पुलवामा और शोपियां में लोगों को मतदान से दूर रखने के लिए हड़ताल का आह्वान किया है।

इससे पहले अनंतनाग और कुलगाम जिलों में 23 और 29 अप्रैल को दो चरणों में मतदान हुआ था। शुक्रवार को हिज़्बुल मुजाहिदीन के प्रमुख कमांडर समेत 3 आतंकवादियों के सुरक्षा बलों द्वारा मुठभेड़ में मारे जाने के बाद एहतियातन के तौर पर रेलसेवायें निलंबित कर दी गयी थी।

रेलवे के एक अधिकारी ने आज सुबह यूनीवार्ता को बताया कि श्रीनगर-बडगाम और बारामूला के बीच उत्तरी कश्मीर में सभी ट्रेनें निर्धारित समय के अनुसार सामान्य रूप से चल रही हैं। पुलिस से मिले परामर्श के बाद शुक्रवार को जम्मू क्षेत्र के बड़गाम-श्रीनगर-अनंतनाग-काजीगुंड और बनिहाल में रेल सेवा को निलंबित कर दिया गया था।

उन्होंने बताया कि रविवार रात को पुलिस की ओर से इसी रूट पर रेलसेवाओं को फिर से निलंबित करने का परामर्श दिया मिला था। प्रशासन और पुलिस की ओर से अनुमति के बाद रेलसेवायें पुनः शुरू कर दी जाएँगी।

गौरतलब है कि कश्मीर में रेलवे अन्य साधनों के मुकाबले काफी सस्ती और सुरक्षित भी है जिसकी वजह यह घाटी में काफी प्रचलित है।