जम्मू कश्मीर व लद्दाख के विद्यार्थी गुलाम कश्मीर के संस्थानों में दाखिला न लें

जम्मू कश्मीर और लद्दाख के विद्यार्थियों को सलाह दी गई है कि वे गुलाम कश्मीर के शिक्षण व तकनीकी संस्थानों में दाखिला न लें। कारण, ये संस्थान मान्यता प्राप्त नहीं हैं। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजूकेशन (एआइसीटीई) ने यह सलाह दी है।

एआइसीटीई ने नोटिस जारी कर कहा है कि गुलाम कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, लेकिन वहां पर शैक्षिक संस्थानों, विश्वविद्यालयों, मेडिकल कॉलेजों व तकनीकी संस्थानों को केंद्र सरकार ने स्थापित नहीं किया है। ये संस्थान विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी), एआइसीटीई व मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त नहीं हैं। इसलिए विद्यार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे गुलाम कश्मीर के अलावा गिलगित व बाल्टिस्तान सहित पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले क्षेत्र में स्थित किसी कॉलेज, विश्वविद्यालय, तकनीकी संस्थान, इंजीनियरिग, फार्मेसी, मैनेजमेंट या अन्य संस्थानों में दाखिला न लें। इन्हें मान्यता प्रदान नहीं की गई है। इसके लिए केंद्र सरकार के अधीन अन्य विनियामक निकायों की ओर से परामर्शिका जारी की गई है। जम्मू कश्मीर शिक्षा निवेशक नीति का मसौदा तैयार