हमारी सरकार बनी तो 30 दिन में लाएंगे क्षेत्रीय स्वायत्ता का प्रस्ताव: फारूक अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नैशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर की स्वायत्ता का राग फिर से छेड़ दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर इस बार के विधानसभा चुनाव में नैशनल कॉन्फ्रेंस को बहुमत मिला तो वह 30 दिन के अंदर एक प्रस्ताव पारित करेंगे, जिसके तहत राज्य को स्वायत्तता दी जा सकेगी।

फारूक अब्दुल्ला ने राज्य में राज्यपाल शासन को निरंकुश बताते हुए जल्द विधानसभा चुनाव की भी मांग की है। आपको यह भी बता दें कि जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन के छह महीने पूरे होने के बाद राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया है। संभावना जताई जा रही है कि राज्य में विधानसभा चुनाव या तो लोकसभा चुनाव के साथ या ठीक उसके बाद कराए जा सकते हैं।

30 दिन के अंदर प्रस्ताव लाने का वादा
पिछले विधानसभा चुनाव में हारकर राज्य की सत्ता से बाहर हुई नैशनल कॉन्फ्रेंस के नेता ने कहा, ‘अगर अल्लाह ने चाहा और हमें बहुमत मिला तो 30 दिन के अंदर हम क्षेत्रीय स्वायत्ता का प्रस्ताव पास करेंगे।’ गौरतलब है कि बुधवार को ही पीडीपी को उस वक्त झटका लगा जब उसकी सरकार में मंत्री रहे चुके बशरत बुखारी और पीम मोहम्मद हुसैन ने नैशनल कॉन्फ्रेंस का दामन थाम लिया।

इन दोनों नेताओं के अलावा आरएस पुरा सीट से बीजेपी के विधायक रहे गगन भगत ने भी नैशनल कॉन्फ्रेंस जॉइन कर ली।