कोरोना वायरस और तमाम विरोध के बीच आज से होगी JEE मेन की परीक्षा

जेईई-नीट परीक्षा को लेकर पूरे देश में मचे घमासान के बीच आज से जेईई मेन की परीक्षा होने वाली है. परीक्षा आज से लेकर 6 सितंबर के बीच होगी. हालांकि, पिछले कुछ दिनों से परीक्षा करवाने को लेकर काफी विरोध हो रहा था. तमाम विपक्षी राजनीतिक पार्टियां छात्रों के स्वास्थ्य का हवाला देकर परीक्षा को टालने की मांग कर रही थीं. इसमें ममता बनर्जी, राहुल गांधी सहित अन्य नेताओं का नाम है. परीक्षा दो शिफ्ट में होगी. सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे और दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक.

शिक्षा मंत्री ने दी छात्रों और अभिभावकों को शुभकामनाएं

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने छात्रों और अभिभावकों को शुभकामनाएं दी और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपील की है कि छात्रों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए जो भी सुविधा की जरूरत पड़े जैसे यातायात और सुरक्षा जैसी व्यवस्था सुनिश्चित कराएं.

ओडिशा, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ ने छात्रों को परिवहन के साधन मुहैया कराने का आश्वासन दिया है. इसके अलावा आईआईटी के पूर्व छात्रों के एक समूह ने जरूरतमंद छात्रों को परीक्षा केन्द्र पहुंचने के लिये परिवहन के साधन मुहैया कराने के वास्ते एक पोर्टल लांच किया है. इस परीक्षा के लिए कुल 8.58 लाख छात्रों ने रजिस्टर किया है.

कोरोना की वजह से दो बार टाली गई थी परीक्षा

दरअसल, कोरोना वायरस की वजह से इस परीक्षा को दो बार टाला जा चुका है. पहले यह परीक्षा मई में होने वाली थी जिसे टाल कर जुलाई कर दिया गया. उस वक्त ऐसा माना जा रहा था कि जुलाई तक स्थिति सामान्य हो जाएगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ, जिसकी वजह से परीक्षा को फिर से टालना पड़ा. इसके बाद परीक्षा की तारीख 1 सितंबर से 6 सितंबर कर दी गई. अभी भी परीक्षा करवाने को लेकर विरोध किए जा रहे थे लेकिन काफी पैरेंट्स और छात्र परीक्षा करवाए जाने के पक्ष में भी थे.

केंद्रों पर छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी

परीक्षा को टालने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी डाली गई थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया और परीक्षा पर रोक लगाने से मना कर दिया था. परीक्षा के दौरान छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर एनटीए ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर भी जारी किया. इसके तहत बताया गया कि किस तरह से परीक्षा केंद्रों पर छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी.