J&K: भद्रवाह में नौ दिन बाद रात का कर्फ्यू हटा, मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल

जम्मू-कश्मीर की भद्रवाह घाटी में नौ दिनों बाद गुरुवार को रात का कर्फ्यू हटा लिया गया और इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गईं। डोडा जिले की भद्रवाह घाटी में संदिग्ध परिस्थितियों में गोलीबारी में एक व्यक्ति की हत्या के खिलाफ समुदाय के सदस्यों के हिसंक प्रदर्शनों के बाद 16 मई को कर्फ्यू लागू किया गया था।

अधिकारियों ने बताया कि शहर में शुक्रवार को रात का कर्फ्यू हटा लिया गया और इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी गई। मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवाएं नौ दिन के लिए निलंबित रहने के बाद शुक्रवार शाम को बहाल हो गईं। भद्रवाह के तहसीलदार जीशान ताहिर ने कहा कि सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील घाटी में परेशानी पैदा करने के लिए बदमाशों ने पहले भी मोबाइल इंटरनेट का दुरुपयोग किया था जिसके बाद सेवाएं निलंबित कर दी गईं।

दूसरी ओर डोडा जिला प्रशासन ने उन मीडिया खबरों का भी खंडन किया, जिनमें इस हत्या के पीछे ‘गोरक्षा’ को वजह बताया जा रहा था। प्रशासन ने कहा कि कुछ लोग घटना को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं। पुलिस ने बताया कि अधिकारी गोलीबारी की घटना के पीछे की वजह का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि मृतक नईम के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया कि वह ‘गोरक्षा’ का पीड़ित बना।

बहरहाल, घटना में शामिल दूसरे पक्ष ने कहा कि उन्होंने पाया कि दो व्यक्ति संदिग्ध परिस्थितियों में घूम रहे हैं जिसके बाद उन्होंने गोली चलाई। घटना के तुरंत बाद मृतक के परिवार ने भद्रवाह पुलिस थाने पर हमला कर दिया, पांच वाहनों को फूंक दिया और एक तिपहिया वाहन में आग लगा दी। अधिकारियों ने गोलीबारी में व्यक्ति की मौत और उसके बाद हिंसा की रविवार को समयबद्ध मैजिस्ट्रेट जांच का आदेश दिया।