J&K: कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर शिवसेना ने किया विरोध प्रदर्शन

शिवसेना ने जम्मू-कश्मीर में कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए प्रशासन से रैपिड टेस्टिंग का दायरा बढ़ाने के साथ-साथ व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग को लेकर मौन विरोध प्रदर्शन किया. शिवसेना ने उपराज्यपाल से अस्पतालों का दौरा कर ज़मीनी हकीकत जानने की भी मांग की.

शिवसेना प्रदेशाध्यक्ष मनीष साहनी की अध्यक्षता में दर्जनों शिवसैनिकों ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से कोरोना मरीजों की सुध लेने और अस्पतालों का दौरा करने के साथ कोरोना संक्रमितों के लिए सरकारी एवं निजी अस्पतालों में बिस्तर की उपलब्धता को सार्वजनिक करने की मांग के पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया.

साहनी ने कहा कि व्यवस्था को दुरुस्त किए बिना रैपिड टेस्टिंग को अंजाम दिया जा रहा है, जिससे कोरोना संक्रमितों की संख्या में भारी इजाफा और जनता में भय की स्थिति बनती जा रही है. होम आइसोलेशन को लेकर सवाल उठाते हुए साहनी ने कहा कि ऐसे मरीज़ों को प्रशासन राम भरोसे छोड़ देता है. ऐसे मरीज़ों के लिए शिवसेना ने डाक्टरों की एक टीम गठित करने की मांग की.

साहनी ने कहा कि क्वॉरन्टीन सेंटर और अस्पतालों में सुविधाएं बेहतर बनाने की जरूरत है. साहनी ने आरोप लगाया कि अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए जगह नहीं होने से लोगों में भय की स्थिति बनती जा रही है.