J&K: मुठभेड़ स्थल से भागा था आतंकी, चार दिन बाद नहर से बरामद हुआ शव

जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के कवासू इलाके से एक आतंकी का शव नहर से बरामद हुआ है। आतंकी चार दिन पहले सुरक्षाबलों पर फायरिंग करके घायल हालत में भाग गया था। उसे गोली लगने के बाद उसने नहर में छलांग लगा दी थी। चार दिनों की सर्च के बाद उसके शव को बरामद कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार, 7 सितंबर को एक सूचना के आधार पर पुलिस, सेना की 2 आरआर तथा सीआरपीएफ ने कवासू इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया था। इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना थी। सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों ने टीम पर फायरिंग शुरु कर दी थी। इसके बाद दोनों तरफ से मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में बाकी आतंकी तो मौके से भागने में कामयाब हुए थे लेकिन एक आतंकी को गोली लग गई थी।

अपने को घिरता हुआ देखकर इस आतंकी ने पास ही एक नहर में छलांग लगा दी थी। उसके बाद चार दिनों से आतंकी की तलाश की जा रही थी। अब उस आतंकी के शव को बरामद कर लिया गया। उसका शव नहर से बरामद हुआ है। आतंकी की पहचान जैश के आविक लोन निवासी शोपिया के रूप में हुई है। वह स्थानीय आतंकी था। जोकि जैश आतंकी संगठन के आतंकियों के साथ इलाके में सक्रिय था।

परिजन को दे दी गई है सूचना
पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि घायल हालत में भागने के लिए उसने नहर में छलांग लगाई थी लेकिन पानी ज्यादा होने के कारण वह घायल हालत में नहर से बाहर नहीं निकल सका। जिससे कि उसकी पानी में ही मौत हो गई। उसके परिजन को सूचित कर दिया गया है। आतंकी के पास से फिलहाल कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है।