J&K: आतंकियों ने कश्मीर में जारी की हिट लिस्ट, लोगों में दहशत

आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर में हिट लिस्ट जारी की है। लोगों को डराने के लिए नया तरीका अपनाया गया है। पाकिस्तान में बैठे कमांडरों के इशारे पर हिट लिस्ट को जारी किया गया है। इसे मददगारों के जरिए सोशल साइटों पर खूब वायरल किया जा रहा है। पुलिस ने इसको लेकर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि आतंकियों ने दो मकसदों से ऐसा किया है। एक तो कश्मीर में सक्रिय बाकी आतंकियों को आर्डर देना और दूसरा इस लिस्ट के जारी करने से लोगों को डराया जा सकेगा।

जानकारी के अनुसार, कश्मीर में आतंकियों की तरफ से एक हिट लिस्ट को जारी किया गया। कुछ दिन पहले इस लिस्ट को जारी किया गया। इसमें कहा गया कि कश्मीर में कुछ लोग आतंकियों के निशाने पर हैं। उनके नाम फरमान जारी किया गया। जिसे सोशल साइटों पर खूब वायरल किया गया है। इसमें आतंकियों की तरफ से नेताओं, सुरक्षाबलों, सामाजिक कार्यकर्ताओं समेत काफी लोगों के नाम जारी किए गए है। उनके लिए कहा गया कि यह लोग उनकी हिट लिस्ट में है। उन पर हमले किए जाएंगे।

कश्मीर में दहशत
इस लिस्ट के जारी होने के बाद कश्मीर में दहशत हो गई। पुलिस की तरफ से लोगों को कहा जा रहा है कि यह सिर्फ डराने के लिए ऐसा किया गया है। क्योंकि इस समय कश्मीर में आतंकवाद की कमर टूट रही है। ऐसे में पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं के इशारे पर ऐसे काम किए जा रहे हैं। जिससे की कश्मीर में आतंकवाद की दहशत को बरकरार रखा जा सके।

कश्मीर में आतंकियों का तेजी से सफाया जारी
पुलिस अफसरों का कहना है कि आतंकियों की तरफ से इस लिस्ट को इसलिए जारी किया गया। क्योंकि इससे कश्मीर में सक्रिय बाकी आतंकी संगठनों को भी मैसेज दिया गया। ताकि अगर उनके निशाने पर कोई आए तो हमला किया जा सके। इस समय कश्मीर में आतंकियों का तेजी से सफाया जारी है। ऐसे में पाकिस्तान में बैठे आतंकी कमांडरों की तरफ से दहशत फैलाने के नये पैतरे अपनाए जा रहे हैं। ताकि कश्मीर में आतंकवाद की दहशत को कायम रखा जा सके।

लिस्ट को तेजी से फैलाया गया
आतंकियों की इस लिस्ट को मददगारों के जरिए तेजी से फैलाया गया। इसे वाट्सऐप ग्रुपों पर डाला गया। कश्मीर के लगभग हर जिले के ग्रुपों पर लिस्ट को डाला गया है। जिससे की हर फोन में आतंकियों का फरमान आ सके।

क्या कहती है पुलिस
पुलिस का कहना है कि आतंकियों की तरफ से फरमान को सिर्फ दहशत फैलाने के मकसद से फैलाया जा रहा है। पुलिस की तरफ से लोगों को ना डरने के लिए कहा गया है। क्योंकि आतंकी अपने आकाओं के कहने पर ऐसा कर रहे है। इस तरह से आतंकी कश्मीर में सक्रिय बाकी आतंकियों तक एक प्रकार से मैसेज पहुंचा रहे है।