J&K Weather: जम्मू में अबतक नहीं पहुंचा मानसून, सामान्य से कम दर्ज हुई बारिश

जम्मू शहर में गर्मी से लोगों का हाल-बेहाल हो रहा है. यहां मानसून ने अभी तक अपनी दस्तक नहीं दी है. जिसके चलते उमस ने लोगों का घरों से निकलना मुश्किल कर दिया है. वहीं प्रदेश में बिजली की अघोषित कटौती ने लोगों की दिक्कतों को और बढ़ा दिया है.

गर्मी से छूटा पसीना

जम्मू में शुक्रवार का अधिकतम तामपान 34.6 डिग्री था जबकि रात का तापमान 26.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. वहीं शुक्रवार को नमी का स्तर 81 प्रतिशत रिकॉर्ड किया गया, जिसने लोगों के पसीने छुड़ा दिए. हालांकि, जम्मू में शुक्रवार तड़के आसमान पर बादल छाए रहे लेकिन कुछ देर बरसने के बाद यह बदल गायब हो गए जिसके बाद सूर्य के प्रकोप ने लोगों के पसीने निकाल दिए.

बिजली कटौती से परेशान लोग

मौसम विभाग की मानें तो अब तक जम्मू में मानसून की बारिश का सिलसिला शुरू नहीं हुआ है. जुलाई के महीने में जिस तरह की बारिश का अनुमान लगाया गया था वैसी बारिश जम्मू में नहीं हुई है. मौसम विभाग की मानें तो अभी तक जम्मू में सामान्य से कम बारिश रिकॉर्ड की गयी है. आने वाले दिनों में भी फिलहाल अच्छी बारिश का अनुमान नहीं है. वहीं जम्मू में अघोषित बिजली कटौती ने भी लोगो की मुश्किलें बढ़ा दी है.

हिमालय के तलहटी वाले क्षेत्र में बढ़ रहा मानसून

आईएमडी ने कहा कि मानसून 18 जुलाई से हिमालय की तलहटी वाले क्षेत्रों की ओर धीरे धीरे बढ़ना शुरू कर सकता है. इसके अलावा बंगाल की खाड़ी से पूर्वोत्तर की ओर जाने वाली नमीयुक्त दक्षिणी पश्विमी हवाओं तथा अरब सागर से हो करआने वाली हवाओं के चलते 18 और 19 जुलाई को उत्तर और पूर्वोत्तर भारत में वर्षा में वृद्धि की संभावना है. उत्तरी भारत में 18 से 20 जुलाई के दौरान और पूर्वोत्तर में 18 से 21 जुलाई के दौरान कछ स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है.

आईएमडी ने कहा कि पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय में 19 से 21 जुलाई के दौरान और अरूणाचल प्रदेश में 19 – 20 जुलाई के दौरान भीषण वर्षा होने की संभावना है.