जेएमसी ने जम्मू शहर में सैनिटाइजिंग टनल स्थापित की

कोरोनोवायरस (कोविड-19) महामारी के प्रसार से निपटने के लिए कई उपायों के एक हिस्से के रूप में, जम्मू नगर निगम (जेएमसी) ने जम्मू शहर के विभिन्न स्थानों में 12 परिशोधन और सैनिटाइजिंग टनलों को सफलतापूर्वक स्थापित किया है।
आयुक्त जेएमसी, अवनी लवासा ने कोरोनोवायरस के आगे प्रसार को नियंत्रित करने के लिए शहर में किए जा रहे नवीनतम प्रयासों की जानकारी देते हुए यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि अस्पतालों, अलगाव और संगरोध केंद्रों और उच्च स्थानों पर उच्च फुटफॉल वाले अन्य स्थानों पर कीटाणुनाशक टनलों को प्राथमिकता पर स्थापित किया जा रहा है ताकि महामारी से निपटने के लिए डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों, कर्मचारियों को सुरक्षा प्रदान की जा सके।
राजकीय मेडिकल कॉलेज बख्शी नगर, राजकीय अस्पताल गांधी नगर, राजकीय अस्पताल सरवाल, राजकीय छाती रोग अस्पताल, राजकीय मनोरोग अस्पताल, यात्री भवन और जेएमसी टाउन हॉल परिसर में टनलें स्थापित की गई हैं।
इन स्थानों को प्राथमिकता दी जा रही है ताकि कोरोनावायरस के आगे प्रसार की संभावना को कम किया जा सके।
हालांकि, आयुक्त जेएमसी ने इस तथ्य पर जोर दिया कि सैनिटाइजिंग टनलें आवश्यक निवारक उपायों जैसे हाथ धोने और सामाजिक दूऱी का पर्याय नहीं हैं, जिनका कड़ाई से पालन किया जाता है।
आने वाले दिनों में, जेएमसी कई अन्य स्थानों पर सैनिटाइजिंग टनलें भी स्थापित करेगी, जहाँ पर रेड जोन क्षेत्र जैसे कि बठिंडी नाका वेव मॉल, गोरखा नगर, नरवाल मंडी, वेयरहाउस इत्यादि में काफी अधिक लोग आते है।
आयुक्त जेएमसी ने आम जनता से भी अपील की कि वे सार्वजनिक स्थानों पर सभाओं से बचें और कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों के रूप में अल्कोहल-आधारित सैनिटाइजर और मास्क का उपयोग करें।