कश्‍मीर: पत्‍थरबाजों की मदद से भाग निकले दो आतंकी, कार्रवाई में एक पत्‍थरबाज की मौत, 70 घायल

दक्षिण कश्‍मीर के कुलगाम और शोपियां जिले में बुधवार को दो मुठभेड़ स्‍थलों पर सुरक्षा बलों के साथ झड़प में एक पत्‍थरबाज की मौत हो गई और 70 अन्‍य घायल हो गए। इस दौरान दो आतंकवादी बचकर भाग निकले। सूत्रों के मुताबिक बुधवार शाम को सेना, सीआरपीएफ और विशेष अभियान दल के जवानों ने शोपियां के पिंजूरा इलाके में घेरेबंदी करके तलाशी अभियान शुरू किया था।
सुरक्षा बलों के अभियान में बाधा डालने के लिए स्‍थानीय पत्‍थरबाजों के एक दल ने तलाशी अभियान चला रहे दल पर पत्‍थरबाजी करना शुरू कर दिया। सुरक्षा बलों ने भीड़ को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और पेलट गन का इस्‍तेमाल किया। इस कार्रवाई में 20 पत्‍थरबाज घायल हो गए। घायलों में से तीन को गोली लगी थी।

आतंकवादियों को कंधे पर रखकर नारे लगाए
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन घायलों को शोपियां जिला अस्‍पताल ले जाया गया, जहां एक घायल सज्‍जाद अहमद परे को मृत घोषित कर दिया गया। इलाके में तीन से चार आतंकवादियों के एक घर में छिपे होने की सूचना है और तलाशी अभियान जारी है। इन आतंकवादियों में हिज्‍बुल मुजाहिद्दीन का कमांडर रियाज नाइकू भी शामिल है। इससे पहले दिन में कुलगाम जिले में सुरक्षा बलों ने अल सुबह दो आतंकवादियों को घेर लिया।

जिस घर में ये आतंकवादी छिपे हुए थे उसे भी ढहा दिया गया, लेकिन आतंकवादी मलबे में जिंदा बचे रहे। इसी बीच बड़ी संख्‍या में पत्‍थरबाजों ने सुरक्षा बलों पर पत्‍थरबाजी शुरू कर दी और दोनों आतंकवादी भाग निकले। सुरक्षा बलों के साथ झड़प में 50 पत्‍थरबाज घायल हो गए। इसके बाद कार्रवाई को रोकना पड़ा। सुरक्षा बल जब चले गए तो पत्‍थरबाजों ने आतंकवादियों को बाहर निकाला और उन्‍हें अपने कंधे पर रखकर नारे लगाए।