पाकिस्तान से लौटे 14 कश्मीरी हुए जम्मू कश्मीर प्रदेश में दाखिल

पाकिस्तान से लौटे 14 कश्मीरी हुए जम्मू कश्मीर प्रदेश में दाखिल, अमृतसर में क्वारंटीन अवधि पूरी कर लौटे हैं संवाद न्यूज एजेंसी कठुआ। पाकिस्तान में विभिन्न प्रोफेशन कोर्स के तहत ट्रेनिंग ले रही 9 कश्मीरी छात्राओं सहित कुल 14 लोगों को पंजाब में क्वारंटीन अवधि पूरी करने के बाद जम्मू कश्मीर प्रदेश में अनुमति मिल गई है। वीरवार दोपहर 12 बजे के लगभग पंजाब पुलिस ने उन्हें जम्मू कश्मीर प्रशासन के हवाले किया। लखनपुर में इंट्री के बाद जहां उनकी स्वास्थ्य जांच की गई वहीं हाथों पर होम क्वारंटीन की स्टांप लगाकर अपने अपने गृह जिले में रवाना कर दिया गया। अपने घरों को लौट रहे इन कश्मीरियों में उत्साह देखने को मिला। प्राप्त जानकारी के अनुसार 19 मार्च को यह दल पाकिस्तान से अमृतसर लौटा था। वागाह वार्डर से लौटने के बाद अमृतसर में ही इन्हें क्वारंटीन किया गया था जिसकी अवधि 4 अप्रैल को समाप्त हो गई थी लेकिन जम्मू कश्मीर प्रदेश सरकार की ओर से प्रदेश में किसी भी व्यक्ति के प्रदेश को लेकर अनुमति न दिए जाने पर यह लोग पंजाब में ही रूके हुए थे। लौटे लोगों ने बताया कि 19 मार्च सुबह सवा दस बजे वागाह बार्डर से होते हुए पंजाब में पहुंचे थे। इससे पहले आए लोगों को जहां आगे जाने की अनुमति दे दी गई थी वहीं पंजाब सरकार की ओर से उन्हे 19 मार्च से अमृतसर में क्वारंटीन कर दिया गया। 24 मार्च को लॉकडाउन के बाद जम्मू कश्मीर का बार्डर भी सील कर दिया गया था। बताया कि उनकी क्वारंटीन अवधि 4 अप्रैल को पूरी हो गई थी लेकिन जम्मू कश्मीर सरकार उन्हें लेने को तैयार नहीं थी। आखिरकार वीरवार सुबह उन्हें अनमुति मिल गई है। इससे पहले पंजाब पुलिस उन्हें रावी पुल तक लेकर आई और जम्मू कश्मीर प्रशासन के हवाले किया। मुश्ताक अहमद ने बताया कि वो श्रीनगर के हैं और 18 को लाहौर से आए थे। 19 मार्च रात एक बजे तक उन्हें बीएसएफ की ओर से बार्डर पर ही रोक लिया गया। जिसके बाद वो अमृतसर में भी क्वारंटीन अवधि पूरा करने के बाद जम्मू कश्मीर में दाखिल होने का इंतजार करते रहे। जम्मू कश्मीर प्रशासन की ओर से इन लोगों को कश्मीर के अपने गृह जिलों में ले जाने के लिए बसों का इंतजाम भी किया गया था।