स्थानीय लोगों की जान ले रहे थे हिज्बुल आतंकी, सेना ने 12 दिन के भीतर खोज कर 4 को किया ढेर

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार सुबह ढेर किए गए 3 आतंकियों ने बीते 12 दिनों में घाटी के चार स्थानीय नागरिकों की हत्या की थी। कश्मीर के अलग-अलग स्थानों पर आम लोगों को निशाना बनाने वाले ये तीनों आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन के थे, जिन्हें खोजने के लिए सेना और पुलिस की कई टीमों को लगाया गया था। शनिवार को इन सभी के कुलगाम के एक गांव में छिपे होने की जानकारी के बाद ही, यहां बड़ा तलाशी अभियान चलाया गया था।

कुलगाम के मंजगाम में हुई मुठभेड़ के बाद मीडिया से बात करते हुए राज्य पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि एनकाउंटर में ढेर किए गए तीनों आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे। घाटी में स्थानीय नागरिकों की हत्या की कई वारदातों के बाद पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। इन वारदातों में 3-4 आतंकियों के एक दल के शामिल होने का शक था, जिसके कुछ सदस्यों के कुलगाम में छिपे होने की सूचना मिली थी।