भारत-चीन तनाव के बीच LAC के पास लेह-लद्दाख में वायुसेना के विमानों की हलचल तेज

भारत और चीन के बीच लद्दाख की गलवान घाटी में जारी तनाव के बीच अब भारतीय सेना ने भी कमर कस ली है.लद्दाख के लेह क्षेत्र में भारतीय वायुसेना के जहाजों की हलचल देखने को मिली है. इसमें भारतीय सेना के सुखोई-30 एमकेआई अत्याधुनिक लड़ाकू विमान शामिल हैं.

सेना ने साफ कर दिया है कि वह किसी भी चुनौती के लिए तैयार हैं और हर संभव अपनी मातृभूमि की रक्षा करेंगे.

वहीं भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध के बीच विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की थी. इस दौरान विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अनुराग श्रीवास्‍तव ने जानकारी दी थी कि चीन ने मई से ही एलएसी के पास अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी थी. उसने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर बड़ी संख्‍या में अपने सैनिकों की तैनाती करके भारत के साथ अपने समझौते का उल्‍लंघन किया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अब तक चीन की तरफ से की गई कार्रवाई के कारण ही तनाव बढ़ा है. इसके चलते ही 15 जून की घटना भी हुई जिसमें सैनिक हताहत हुए. साथ ही चीन के बदले और आक्रामक तेवरों के कारण ही स्थिति तनावपूर्ण हो रही है.

बता दें कि 15 जून को गलवान घाटी में चीन के साथ हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे तो वहीं चीन के भी 41 जवानों को नुकसान हुआ था हालंकि चीन ने इस बात को स्वीकार नहीं किया है.