मध्य प्रदेश: पिता ने अपने तीन मासूम बेटों का दबाया गला, दो की मौत, बाद में खुद भी दी जान

मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में पत्नी के मायके से नहीं आने से नाराज एक व्यक्ति ने कथित रूप से अपने तीन मासूम बेटों का गला दबा दिया, जिससे दो की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक बेटा गंभीर रूप से घायल हो गया. इसके बाद इस व्यक्ति ने खुद भी पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

यह घटना बालाघाट जिले के रूपझर पुलिस थाना अंतर्गत ग्राम चारटोला की पहाड़ी पर स्थित कछारटोला में हुई. बालाघाट जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि कछारटोला गांव का निवासी अंतु उर्फ भूरा सिंह पुसाम (27) की पत्नी तीन बेटों को लेकर मायके गई थी, जिन्हें लाने वह गांव से लगभग चार किलोमीटर दूर ग्राम सोनपुरी गया था. उन्होंने कहा कि पत्नी ने ससुराल आने से मना कर दिया, जिसके बाद वह तीनों बच्चों को साथ लेकर अपने गांव रवाना हो गया और रास्ते में उसने तीनों बच्चों का कथित रूप से गला दबा दिया.

तीनों मासूम जमीन पर थे

रूपझर पुलिस थाना अंतर्गत आने वाली सोनगुड्डा पुलिस चौकी से मिली जानकारी अनुसार मृतक के रिश्तेदार अंकुश पुसाम ने बच्चों की आवाज सुनकर जब घटनास्थल पहुंचा तो उसने देखा कि अंतु पुसाम का शव पेड़ से फांसी पर लटका था, जबकि उसके पैर के पास ही तीनों मासूम जमीन पर थे, जिनमें से उसके दो बेटों की मौत हो गई थी और एक वर्षीय मासूम की सांसे चल रही थी.

तिवारी ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और तीनों शवों को बरामद कर उन्हें पोस्टमॉर्टम के लिए उकवा अस्पताल भिजवाया है, जबकि मासूम को उपचार हेतु बालाघाट जिला चिकित्सालय लाकर भर्ती कराया गया है.

उन्होंने कहा कि बहरहाल अब तक यह साफ नहीं हो सका है कि घटना की वास्तविक वजह क्या है, लेकिन संभावना जताई जा रही है कि पत्नी के मायके चले जाने से अंतु मानसिक तनाव में था और जब वह उसे घर लाने पहुंचा और वह उसके साथ नहीं लौटी तो उसने यह कठोर कदम उठाया. मामले की विस्तृत जांच जारी है.