प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश में कहा, लॉकडाउन के दौरान लोगों ने मिलकर अनुशासन दिखाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक वीडियो संदेश साझा करके राष्ट्र के नाम संदेश जारी किया है. कोरोना संकट काल के दौरान अपने तीसरे संदेश मे उन्होंने कहा है कि कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान देश के लॉकडाउन को 9 दिन पूरे हो गए हैं. इस चुनौतीपूर्ण समय में ये भाव प्रकट हुआ है कि देश एक होकर इस महामारी का सामना कर सकता है.

लॉकडाउन का देश की जनता ने पालन करने की पूरी कोशिश की है और शासन, प्रशासन ने इसको लेकर पूरी एकाग्रता के साथ कार्य किया है. इस मुश्किल समय में लोगों ने अनुशासन दिखाया है और विश्व के कई देश भारत से सीख रहे हैं.

रविवार 5 अप्रैल के लिए किया ये आह्वान

पीएम मोदी ने कहा कि इस रविवार 5 अप्रैल को रात 9 बजे लोग अपने घरों की सभी लाइट्स बंद करें और 9 मिनट तक घरों में मोमबत्ती, दिए या मोबाइल की फ्लैश लाइट्स जलाएं. इसके जरिए कोरोना के अंधकार के खिलाफ देश की उजाले की लड़ाई को दिखाया जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि इस महामारी के दौरान हमें उस गरीब का सबसे ज्यादा ख्याल रखना है जो इसकी वजह से बड़ी मार झेल रहा है. उसके जीवन में जो अंधेरा आ गया है उसे दूर करने के लिए आप लोगों के 9 मिनट चाहिए. इस रविवार को रात 9 बजे घर की सारी लाइट्स बंद करके मोमबत्ती, दिए या मोबाइल की फ्लैश लाइट को जरूर जलाएं. इसके लिए घरों के दरवाजे या बालकनी में तो आएं लेकिन कोई भी घर से बाहर ना जाए.

कल प्रधानमंत्री ने की थी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक

कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की थी. बताया जा रहा है कि इसमें अलग-अलग सीएम के साथ पीएम मोदी ने लॉकडाउन के दौरान राज्यों के किए इंतजामों की समीक्षा की थी. इसके बाद पीएम मोदी ने एक ट्वीट के जरिए जानकारी दी थी कि वो आज सुबह 9 बजे एक वीडियो संदेश साझा करेंगे.

इस ट्वीट के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि प्रधानमंत्री इस वीडियो संदेश में क्या कहने वाले हैं. लोगों का मानना था कि पीएम मोदी कोरोना वायरस को लेकर देश की क्या तैयारियां हैं, इसकी जानकारी देंगे. इसके अलावा क्या लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है, इस पर भी कुछ कहेंगे.

कोरोना संकट के दौरान तीसरा संदेश

बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने 19 मार्च को और 24 मार्च को रात 8 बजे देश को संबोधित किया था. 24 मार्च को उन्होंने देश में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए जाने के बारे में बताया था और 25 मार्च से 14 अप्रैल के दौरान पूरे 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी.