महबूबा मुफ्ती का बयान, ‘देशद्रोही कहे जाने पर गर्व है, ये देशभक्ति हमारे बस की नहीं’

राजनीतिक दल मक्कल निधि मय्यम के प्रमुख कमल हासन द्वारा नाथूराम गोडसे को आजाद भारत का पहला आतंकवादी बताए जाने के बाद उपजा विवाद खत्म होने की नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को भोपाल से बीजेपी की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहे जाने पर निशाना साधते हुए जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने एक ट्वीट किया है। अपने ट्वीट में महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए लिखा है कि ऐसी देशभक्ति हमारे बस की नहीं है।

साध्वी प्रज्ञा के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए महबूबा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘अगर एक हिंदू कट्टरपंथी जिसने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की हो उसे देशभक्त बताया जा रहा है तो मुझे गर्व है कि मुझे देशद्रोही कहा जाता है। ऐसा राष्ट्रवाद और देशभक्ति हमारे बस का नहीं, यह आपको मुबारक।’ बता दें कि महबूबा का यह बयान उस वक्त आया है जबकि फिल्म अभिनेता और राजनेता कमल हासन द्वारा नाथूराम गोडसे को आतंकी बताने के बाद देश में इस बयान पर लगातार राजनीति हो रही है।

साध्वी प्रज्ञा ने गोडसे को बताया था देशभक्त
कमल हासन द्वारा तमिलनाडु के अरवाकुरिचि में दिए बयान पर मीडिया द्वारा सवाल पूछने पर बीजेपी नेता साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा ‘नाथूराम गोडसे देशभक्त थे। देशभक्त हैं और देशभक्त रहेंगे। उन्हें हिंदू आतंकवादी बताने वाले अपने गिरेबान में झांककर देखें। अबकी बार चुनाव में ऐसे लोगों को जवाब दे दिया जाएगा।’ वहीं कमल हासन ने बुधवार को इस बयान को सही बताते हुए कहा कि उन्होंने सिर्फ वही बात दोहराई थी जो कि ऐतहासिक सच थी।