आंध्र प्रदेश: जगनमोहन रेड्डी के साथ पहले ली सेल्‍फी, फिर चाकू मारकर किया घायल

आंध्र प्रदेश के प्रमुख विपक्षी दल वाईएसआर कांग्रेस के नेता जगनमोहन रेड्डी उस वक्‍त मामूली रूप से घायल हो गए जब एयरपोर्ट पर एक शख्‍स ने उन पर हमला कर दिया. इस हमले में रेड्डी (45) के बाएं कंधे से खून निकलते देखा गया.
पुलिस के मुताबिक हमलावर का नाम ‘श्रीनिवास’ है और उसने धातु की छोटी ब्‍लेड से हमला किया. इस तरह की ब्‍लेड का इस्‍तेमाल आमतौर पर मुर्गों की लड़ाई के दौरान उनको उकसाने के लिए किया जाता है. पुलिस ने तत्‍काल हमलावर को पकड़कर कस्‍टडी में ले लिया है. शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक वह एयरपोर्ट में कैंटीन वर्कर है. हालां‍कि अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.

पुलिस के मुताबिक हमलावर एयरपोर्ट पर कथित रूप से वीआईपी लाउंज में रेड्डी के पास पहुंचा. उसने उनसे पहले सेल्‍फी लेने का आग्रह किया. जब रेड्डी उसके साथ फोटो खिंचाने लगे तो उसी दौरान उसने धारदार हथियार से हमला कर दिया. अभी उसके हमले का मकसद तो नहीं पता चल सका है लेकिन पुलिस के मुताबिक हमलावर किसी भी सूरत में जगनमोहन रेड्डी को सत्‍ता में नहीं आने देना चाहता था.
जगनमोहन रेड्डी पर यह हमला उस वक्‍त हुआ जब हैदराबाद के लिए फ्लाइट का इंतजार कर रहे थे. उनको शुक्रवार को वहां एक मामले में कोर्ट के समक्ष पेश होना है.

इस हमले के बाद वाईएसआर कांग्रेस के एक नेता ने इसको षड़यंत्र बताते हुए एन चंद्रबाबू नायूड के नेतृत्‍व वाली टीडीपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि हमलावर श्रीनिवास जिस एयरपोर्ट कैंटीन का स्‍टाफ था, उसका संचालन एक टीडीपी नेता के हाथ में है.

इस संबंध में टीडीपी नेता और मुख्‍यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू के प्रवक्‍ता ने कहा कि ये बेहद दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि जगनमोहन रेड्डी ने उनकी पार्टी पर आरोप लगाए हैं. प्रवक्‍ता ने कहा कि एयरपोर्ट की सुरक्षा का जिम्‍मा केंद्रीय एजेंसी के पास होता है. हम इस हमले की निंदा करते हैं और मामले की पूरी जांच होनी चाहिए. हालांकि इस हमले के साथ ही हवाई अड्डों पर सुरक्षा के स्‍तर पर व्‍याप्‍त खामियों की एक बार फिर पोल खुल गई. ऐसा इसलिए क्‍योंकि मेटल डिटक्‍टर से हर व्‍यक्ति की स्‍क्रीनिंग की जाती है. ऐसे में वह व्‍यक्ति किस तरह धारदार हथियार लेकर जगनमोहन रेड्डी तक पहुंच गया, यह एक बड़ा सवाल है.