पैसा कमाने कुवैत गए 5 युवक रोटी के लिए तरसे, घरवाले बोले- ‘सरकार हमारे बच्चों को वापस लाओ’

 विदेशी धरती पर पैसा कमाने की चाहत ने कई नौजबानो को घर से बेघर कर दिया. एजेंट्स के जरिए भारत से लोग विदेश तो चले जाते हैं, लेकिन वहां जाकर वह सिर्फ मुसीबतों में फंस जाते हैं. ऐसा ही मामला तब सामने आया जब एक वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हम पठानकोट के हल्का भोआ के गांव मान नंगल में पहुंचे, जहां पर मौजूद दो सगे भाइयों के कुवैत में फंसे होने की बात सामने आई.

जानकारी के मुताबिक, पठानकोट ही नहीं बल्कि पंजाब के कुल पांच नौजवानों को पैसा कमाने की लालच देकर कुवैत ले गए, जहां वह अब रोटी के दो निवालों के लिए भी तरस रहे हैं. पठानकोट के दो सगे भाई सुखविंदर और बलविंदर का वीडियो देखकर मां-बाप बाप का रो-रोकर बुरा हाल हैं. परिवार ने सरकार को गुहार लगाई है कि किसी तरह सरकार उनके बच्चों के वापस अपने वतन ले आए. सुखविंदर और बलविंदर के पिता ने सरकार से गुहार लगाई है कि उनके बच्चों की तरह तीन और बच्चे वहां फंसे हुए हैं. उनके घरवाले भी परेशान हैं, सरकार कुवैत से पांचों बच्चों को वापस ले आए.

उन्होंने बताया कि पांचों बच्चे सात महीने पहले ही कुबैत गए थे, वहां वे सभी बहुत परेशान हैं. पांचों पिछले तीन महीने से खाली है. घर वापस भी कैसे आए, क्योंकि एजंट ने उन लोगों से पासपोर्ट छीन लिया है.

वहीं, जब इस मामले पर पूर्व विधायक सीमा देवी से बात की गई, तो उन्होंने कहा कि अभी तक इस मामले की जानकारी नहीं थी. उन्होंने कहा अब इस मामले को केंद्र सरकार के संज्ञान तक पहुंचाया जाएगा. उन्होंने कहा कि हम अपने नए सांसद सन्नी दिओल को इसके बारे में दी जाएगी और सभी बच्चों को वापस लाने की कोशिश की जाएगी.