केंद्र सरकार संसद में आज पेश करेगी राफेल विमान सौदे पर कैग रिपोर्ट

राफेल सौदे में कथित घोटाले के विपक्ष के आरोपों के बीच मोदी सरकार मंगलवार को संसद में कैग रिपोर्ट रखेगी। प्रोटोकॉल के तहत नियंत्रक व महालेखा परीक्षक (कैग) अपनी रिपोर्ट की एक प्रति राष्ट्रपति और दूसरी प्रति वित्त मंत्रालय को भेजते हैं। सूत्रों के अनुसार, राफेल पर कैग रिपोर्ट राष्ट्रपति को भेज दी गई है।

राष्ट्रपति भवन से कैग रिपोर्ट लोकसभा स्पीकर के कार्यालय और राज्यसभा के चेयरमैन के कार्यालय भेजी जाती है। 16वीं लोकसभा का मौजूदा सत्र बुधवार को स्थगित हो रहा है। यह मौजूदा सरकार का आखिरी सत्र है। सूत्रों का कहना है कि इसलिए सरकार मंगलवार को ही कैग रिपोर्ट संसद में रखेगी। अप्रैल-मई में आम चुनाव के बाद 17वीं लोकसभा का गठन होगा।

सूत्रों के अनुसार, कैग ने राफेल पर 12 चैप्टर की रिपोर्ट तैयार की है। रक्षा मंत्रालय ने राफेल विमान पर विस्तृत जवाब और संबंधित रिपोर्ट कैग को सौंपी थी। इसमें खरीद प्रक्रिया की जानकारी के साथ 36 राफेल विमानों की कीमत भी बताई गई थी।

राफेल पर फिर गरमाई सियासत
एक अंग्रेजी अखबार ने सोमवार को रिपोर्ट छापी कि राफेल सौदे में भ्रष्टाचार से जुड़े अहम प्रावधानों को हटाया गया। इसके बाद सियासत फिर गरमा गई। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि चौकीदार के लिए राष्ट्रीय हितों से समझौता किया जा रहा है। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम पर अंबानी की मदद करने का फिर आरोप लगाया।