विंग कमांडर अभिनंदन से मिलीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन, सुबह मिले थे वायुसेना प्रमुख

60 घंटे से ज्‍यादा पाकिस्‍तान में रहकर शुक्रवार रात लौटे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का इस समय दिल्‍ली के अस्‍पताल में चैकअप किया जाएगा. उन्‍हें चार दिन तक यहीं रखा जाएगा. शनिवार को विंग कमांडर अभिनंदन से रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने मुलाकात की. इस मौके पर उनके साथ दूसरे सैन्‍य अधिकारी भी मौजूद थे. इससे पहले विंग कमांडर अभिनंदन से वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने भी मुलाकात की थी.

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान से मुलाकात की और उनसे कहा कि समूचे राष्ट्र को उनके साहस एवं दृढ़ता पर गर्व है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. भारतीय वायुसेना के एक मेडिकल संस्थान में हुई मुलाकात के दौरान, समझा जाता है कि अभिनंदन ने पाकिस्तान की गिरफ्त में करीब 60 घंटे रहने के बारे में रक्षा मंत्री को विस्तार से बताया.

अभिनंदन शुक्रवार देर शाम अटारी – वाघा सीमा होते हुए भारत पहुंचे और इसके करीब ढाई घंटे बाद रात करीब पौने 12 बजे वह वायुसेना के एक विमान से नयी दिल्ली पहुंचे. उनके भारतीय सीमा में प्रवेश करने पर यह पाया गया कि उनकी दायीं आंख के पास सूजन है. एयर फोर्स सेंट्रल मेडिकल एस्टैबलिशमेंट (एएफसीएमई) में अभी उनकी मेडिकल जांच चल रही है.

अभिनंदन के भारत लौटने के बाद दिल्‍ली के सैन्‍य अस्‍पताल में उनका मेडिकल चेकअप चल रहा है. इस दौरान डॉक्‍टरों की एक टीम उनकी निगरानी करेगी. शनिवार सुबह वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने विंग कमांडर अभिनंदन से मुलाकात की है. इस दौरान अभिनंदन ने उनसे पाकिस्‍तान में उनकी हिरासत से संबंधी कुछ बातें साझा की हैं. विंग कमांडर को एयरफोर्स ऑफिसर्स मेस में ठहराया गया है.

गौरतलब है कि उन्हें पाकिस्तानी अधिकारियों ने 27 फरवरी को पकड़ लिया था. दरअसल, पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के साथ हुई एक झड़प के दौरान उनका मिग 21 गिर गया था. लेकिन उन्होंने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तानी वायुसेना के एफ – 16 को मार गिराया था.

सिलसिलेवार तरीके से ली जाएगी जानकारी
सुरक्षा कारणों से भारतीय सुरक्षा अधिकारियों द्वारा अभिनंदन से पाकिस्‍तान में हुई तमाम घटनाओं की सिलसिलेवार जानकारी ली जाएगी. ये जानकारी बेहद जरूरी होती है. इस पूछताछ के दौरान अधिकारी इस बात को जानने की कोशिश करेंगे कि कहीं दवाब में लेकर पाकिस्‍तान ने भारत को नुकसान पहुंचाने वाली किसी चीज की जानकारी हासिल तो नहीं कर ली है.

अभिनंदन की दोबारा तैनाती कब?
इसके बाद देखा जाएगा कि विंग कमांडर अभिनंदन शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह से फिट हुए या नहीं? सेवा के लिए फिट होते ही दोबारा उनकी उपयुक्त जगह पर तैनाती कर दी जाएगी. हालांकि ऐसे मामलों के बाद इस बात के आसार बेहद कम रहते हैं कि ठीक वही जिम्मेदारी उन्हें दोबारा दी जाए.