दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा तैय्यब गैंग का सरगना, ATM फुटेज से मिला सबूत

राजधानी दिल्ली में लूट की करीब 20 वारदातों को अंजाम देने वाले तैय्यब गैंग का सरगना तैय्यब खान आखिरकार दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया. गुरुवार को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने तैय्यब खान को पूर्वी दिल्ली के शाहदरा इलाके से गिरफ्तार किया. पुलिस को तैय्यब का सूबत एटीएम फुटेज से मिला. बता दें कि बीती 8 और 9 जून रात को एक टीवी पत्रकार की टीम पर बदमाशों ने फायरिंग की. बारापुला पर सूचना भवन के पास बदमाशों ने कार रोकने की कोशिश की थी. बाइक सवार बदमाश हथियारों से लैस थे. बदमाशों ने कार पर तीन राउंड फायरिंग की.

जिस कार पर हमला हुआ वह नॉएडा से दिल्ली जा रही थी. बदमाशों ने भी लूट में नाकाम रहने पर यूटर्न लिया और वापस नोएडा तरफ जाकर फिर दिल्ली की तफ भाग गए. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने कई टीमें जांच में लगाई. बदमाशों के क्राइम पैटर्न से बदमाशों की तलाश शुरू की. जांच में पता चला 5 जून को NH 24 पर बिल्कुल इसी तर्ज पर बदमाशों ने एक कार ड्राइवर को गोली मारकर लूट लिया था.

बदमाशों ने उस ड्राइवर से कैश के साथ उसका एटीएम कार्ड भी लूट लिया था. इसके बाद जब बदमाशों ने उस ATM से पैसे निकाले तो यहीं से पुलिस को लीड मिली. एटीएम के सीसीटीवी में बदमाश की तस्वीर आ गई.

इसके बाद ही पुलिस तैय्यब और शाहिद नाम के दो बदमाशों तक पहुंच जाती है. तैय्यब बाइक चलाता था वही चलती बाइक से गोली चलाता था. शाहिद हथियार लेकर पीछे बैठता था. दोनों का अपना गैंग है. जिसमे गैंग लीडर तैय्यब है. इन्होंने करीब 20 वारदात ईस्ट नार्थ ईस्ट, शाहदरा में ये ताबड़तोड़ फायरिंग कर लूट करते थे.

पहले शाहिद की गिरफ्तार जीटीबी नगर इलाके से पकड़ा गया था. तैय्यब भी पहले गिरफ्तार हो चुका है. और जब ये जमानत पर बाहर आते थे फिर वारदात करने रात में सड़कों पर निकल जाते थे. दोनो आरोपी साथ रहते थे स्कूल ड्राप आउट है. जल्द पैसे कमाने की चाहत में पहले इन्होने मोबाईल चोरी स्नैच करना शुरू किया. फिर ये ऑटो औऱ वाहन लुटने लगे और फिर इन्होंने हथियार की नोक पर लूटपाट करना शुरू कर दी.

2017 से दोनो वारदात कर रहे है. खुद की गैंग का नाम तैय्यब का गैंग बताते थे आपस में लूट का पैसा आपस में बाटते थे. बारी बारी से गैंग मेंबर रात में बाइक से वारदात करने सड़कों पर निकल जाते थे. ये अपने घरों से कम निकलते थे. दिन का खाना आन लाइन आर्डर कर बुलाते थे. रात को शराब और दूसरा नशा कर तेज रफ्तार बाइक से दिल्ली की सड़कों पर निकल जाते थे.