सावधान! दिल्ली में छुपे हो सकते आतंकी, दिल्ली पुलिस ने अलर्ट जारी करके लगाए पोस्टर

देश की राजधानी दिल्ली में दो आतंकियों के छिपे होने की आशंका के चलते दिल्ली पुलिस ने अलर्ट जारी किया है. दिल्ली पुलिस द्वारा जारी एडवायजरी में इन दो संदिग्धों की तस्वीर भी जारी की है. पुलिस द्वारा जारी की गई फोटो में दोनों आतंकी एक मील के पत्थर के दोनों ओर खड़े दिखाई दे रहे हैं. इनमें से एक की बड़ी दाढ़ी है. मील के पत्थर पर उर्दू में लिखा है. दिल्ली 360 किलोमीटर, फिरोजपुर 9 किलोमीटर. फिरोजपुर पंजाब में पाकिस्तान सीमा से सटा हुआ शहर है. यानि ये मील का पत्थर भारतीय सीमा के करीब पाकिस्तान के किसी इलाके में स्थित है और वहीं से ये तस्वीर ली गई है.

दिल्ली पुलिस ने लोगों से अपील की है कि यदि इन संदिग्धों में से कोई भी दिखाई दे तो पहाड़गंज पुलिस थाने के फोन नंबर 011-23520787 या 011-2352474 पर सूचना दें. दिल्ली पुलिस के अनुसार यह दोनों आतंकी जैश ए मोहम्मद के हैं. पिछले दिनों खुफिया एजेंसियों ने पांच आतंकियो की पंजाब में घुसने का अलर्ट भी जारी किया था.

इससे पहले आज (मंगलवार) दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एयरपोर्ट से हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी को गिरफ्तार किया था. ये आतंकी ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में पुलिस के एसपीओ की हत्या में शामिल था.

ये गिरफ्तारी मंगलवार सुबह हुई है. गिरफ्तार किए गए आतंकी का नाम अन्सारुल बताया जा रहा है. ये आतंकी 28 अक्टूबर को कश्मीर के पुलवामा जिले में जम्मू कश्मीर पुलिस के एसआई इंतियाज अहमद मीर की हत्या में शामिल था. स्पेशल सेल उसके हर मूवमेंट पर पिछले 15-20 दिनों से नज़र रख रही थी. 20 नवंबर यानी आज जैसे ही वो दिल्ली एयरपोर्ट पर आया पुलिस उसे गिरफ्तार कर लिया.

दरअसल जम्मू कश्मीर में सेना आपरेशन ऑल आउट के तहत आतंकियों को चुन चुन कर ठिकाने लगा रही है. इससे बौखलाए आतंकियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है, इसी कड़ी में कुछ दिनों पहले ही आतंकियों ने एक धमकी दी थी कि घाटी के पुलिसकर्मी और SPO अपनी नौकरियां छोड़ दें.

इसी धमकी के तहत इम्तियाज़ की हत्या की गई. इस वारदात के बाद से ये फरार चल रहा था. इस हत्या के बाद ये सबसे पहले ये कश्मीर से दिल्ली आया फिर यहां से मुंबई गया और मुंबई से बेंगलुरू होता हुआ वापस दिल्ली पहुंचा था. यहां से यह कश्मीर जाने की फिराक में था. यह कश्मीर में बड़ा फल कारोबारी है. गिरफ्तार आतंकी की उम्र लगभग 24-25 साल बताई जा रही है और ये अंग्रेजी में एमए का छात्र भी है.