हज जाने वालों के लिए खुशखबरी! पहली बार 100% आवेदन होगे ऑनलाइन, बस लगेंगे ये कागजात

पिछले महीने ही हज 2019 की यात्रा पूरी हुई, और अब भारत में 2020 के लिए आवेदन देने का सिलसिला शुरू हो गया है. इस बार हज कमेटी ऑफ इंडिया ने आवेदन देने की प्रक्रिया को पूरी तरह ऑनलाइन रखा है. ये भारत के इतिहास में पहली बार है कि हज के 100 प्रतिशत आवेदन ऑनलाइन होंगे. हज यात्रा करने का इरादा रखने वाले तमाम लोग 10 नंवबर तक आवेदन कर सकेंगे. आज सुबह से ही दिल्ली समेत अलग अलग प्रदेशों की हज कमेटियों में लोगों की भीड़ नज़र आई.

हज के लिए आवदेन करने वाले लोगों का कहना है, कि शुरुआत में कई बातें तकनीकी तौर पर उन्हें समझ नहीं आई, इसलिए उन्होंने हज कमेटी के कार्यालय में आकर ही आवेदन करना मुनासिब समझा. हालांकि हज कमेटी ऑफ इंडिया की तरफ़ से कहा गया है कि कोई भी शख्स घर बैठे ऑनलाइन आवेदन कर सकता है, और किसी भी तरह की दिक्कत के लिए अपने राज्य की हज कमेटी से सम्पर्क कर सकता है.

इसके अलावा तमाम तरह के अपडेट हज कमेटी ऑफ इंडिया की वेबसाइब पर भी उपलब्ध है. इसके राज्यों की हज कमेटियों में अलग से कई काउंटर बनाए गए है, ताकि ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कार्यालय आने वाले लोगों को किसी तरह की दिक्कत ना हो. आवेदन करने के लिए पासपोर्ट की कॉपी, फ़ोटो बैंक पासबुक, या कैंसिल चेक, आधार कार्ड नम्बर, पैन कॉर्ड नम्बर, मोबाइल नम्बर, ब्लड ग्रुप की जरूरत पड़ेगी.

ये तमाम दस्तावेज हज फॉर्म के साथ लगेंगे. हज कमेटी ऑफ इंडिया को कुछ साल पहले ही अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के तहत लाया गया था, और अब हज के काम में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय का अहम रोल रहता है. कुछ ही दिन पहले हज 2020 की रूपरेखा का एलान करते हुए अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने कहा था कि उनकी कोशिश होगी कि 2019 में जो समस्याएं आई 2020 में उनको दूर किया जाए. पिछले दो सालों से हज का काम जल्दी शुरू कर दिया जाता है ताकि वक़्त रहते सभी कामों को निपटा लिया जाए.