सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने में ISIS सेनाओं से कहीं आगे: आर्मी चीफ नरवणे

आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे ने बुधवार को कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन की 21वीं सदी की सेनाओं की तुलना में आईएसआईएस तबाही मचाने की गतिविधियों के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने में कहीं आगे है।

सेना प्रमुख ने बालाकोट एयरस्ट्राइक पर कहा कि बालाकोट हवाई हमला दिखाता है कि अगर कोई निपुण है तो जरूरी नहीं कि बढ़ते तनाव के कारण हमेशा युद्ध हो ही। उन्होंने कहा कि दक्षिण चीन सागर में चीन का प्रभुत्व दिखाता है कि एक भी गोली चलाए बिना भी छोटे-छोटे कदमों से लक्ष्य को हासिल किया गया है।

बता दें कि इससे पहले जनवरी माह में सेना प्रमुख मुकंद नरवाने ने पीओके को लेकर बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि एक संसदीय संकल्प है कि संपूर्ण जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा है। यदि संसद यह चाहती है, तो उस क्षेत्र (PoK) को भी भारत में होना चाहिए। जब हमें इस बारे में कोई आदेश मिलेंगे, तो हम उचित कार्रवाई करेंगे।

दिल्ली में सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने सीडीएस के गठन और सैन्य मामलों के विभाग बनाने को लेकर कहा था कि सेना के एकीकरण की दिशा में एक बहुत बड़ा कदम है और हम अपनी ओर से यह सुनिश्चित करेंगे कि यह सफल रहे। तीनों सेनाओं में तालमेल सबसे जरूरी है।