लद्दाख के सांसद बोले, ‘अनुच्‍छेद 370 हमें भारत की मुख्‍य धारा से जोड़ने में था बाधक’

लद्दाख के सांसद जामयांग शेरिंग नामग्याल ने एक बार फिर जम्मू कश्‍मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्‍छेद 370 के अहम प्रावधानों को लेकर बात रखी है। उन्‍होंने बताया कि यह आर्टिकल किस तरह लद्दाख के लोगों को भारत की मुख्‍य धारा से रोकने में बाधक था। इतना ही नहीं, इससे स्‍थानीय लोगों में असुरक्षा का भाव भी बना हुआ था और वे भेदभाव भी महसूस करते थे। लेकिन अब बदले हालात में सबकुछ ठीक हो जाने और क्षेत्र के विकास की भी उम्‍मीद है, जो अब तक उपेक्षित रहा।

जामयांग शेरिंग गुजरात के नर्मदा में आयोजित इंडिया आइडियाज कॉन्क्‍लेव में बोल रहे थे, जब उन्‍होंने कहा, ‘लद्दाख के एक तरफ कट्टरपंथी इस्लाम था तो दूसरी ओर कम्युनिस्ट चीन, दोनों भारत के ‘करीबी दोस्त।’ इस बीच संविधान का अनुच्‍छेद 370 हमें मुख्यधारा में शामिल होने की अनुमति नहीं दे रहा था, असुरक्षा और भेदभाव की भावना बनी हुई थी।’