COVID-19: पीएम मोदी की अपील- बिना डॉक्टर की सलाह के दवा लेने की आदत से बचें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी के लोगों से कोरोना वायरस को लेकर वीडियो के जरिए संवाद किया. इस दौरान उन्होंने कुछ लोगों से भी बात की. बातचीत की इस कड़ी में पीएम मोदी ने लोगों के सवाल लिए और उसका जवाब दिया. इसी दौरान बीएचयू के प्रोफेसर डॉ गोपाल नाथ ने कोरोना वायरस को लेकर खुद से दवा लेने के खतरे को लेकर चिंता जाहिर की.

इस पर पीएम मोदी ने कहा कि ये चिंता जायज है. कोरोना के संक्रमण का इलाज अपने स्तर पर बिल्कुल नहीं करना है. डॉक्टर की सलाह से ही कुछ करना है. पीएम मोदी ने कहा, ‘’ प्रोफेसर साहब आपकी चिंता जायज है. हमारे यहां डॉक्टरों को पूछे बिना दवाएं लेने की आदत है. इससे हमें बचना है. कोरोना के संक्रमण का इलाज अपने स्तर पर बिल्कुल नहीं करना है, घर में रहना है और जो करना है डॉक्टरों की सलाह से ही करना है.’’

कोरोना के खिलाफ कोई भी दवा नहीं बनी है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि हमें ये ध्यान रखना है कि अभी तक कोरोना के खिलाफ कोई भी दवाई, कोई भी वेक्सीन पूरी दुनिया में नहीं बनी है. इस पर हमारे देश में भी और दूसरे देशों में भी काम तेज़ी से चल रहा है. उन्होंने कहा, ‘’ आपने खबरों में भी देखा होगा कि, दुनिया के कुछ देशों में अपनी मर्ज़ी से दवाएं लेने के कारण कैसे जीवन संकट में पड़ रहे हैं.  हम सभी को हर तरह के अंधविश्वास से, अफवाह से बचना है.’’

सोशल डिस्टेंस पर फिर दिया जोर

पीएम मोदी ने एक बार फिर सोशल डिस्टेंस यानी सामाजिक दूरी की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने दोहराया कि कोरोना के संक्रमण को रोकने का एकमात्र उपाय सामाजिक दूरी को बनाए रखना है. उन्होंने कहा कि नागरिक के नाते कानून और प्रशासन को जितना ज्यादा सहयोग करेंगे, उतने ही बेहतर नतीजे निकलेंगे.