बजट 2020: एयरपोर्ट Duty Free से खरीद पाएंगे मात्र एक बोतल शराब, जानिए क्या है सरकार के मन में

देश के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट्स के ड्यूटी फ्री (Duty Free) दुकानों से अब आप दो बोतल शराब नहीं खरीद पाएंगे. केंद्र सरकार सभी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट्स (Airports) से शराब खरीदने की संख्या कम करने पर विचार कर रही है. नए सिफारिशों में साफ कहा गया है कि भारत आने वाले प्रति यात्री को सिर्फ एक बोतल शराब ही खरीदने की लिमिट होनी चाहिए. आगामी बजट में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) इस नए कदम की घोषणा कर सकती है.

क्यों घटाई जा रही है शराब खरीदने की लिमिट?
सूत्रों का कहना है कि यह सिफारिश वाणिज्य मंत्रालय (Commerce Ministry) की ओर से वित्त मंत्रालय को भेजी गई है. इसमें वाणिज्य मंत्रालय ने कहा है कि कई देश अभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को अधिकतम एक लीटर शराब खरीदने की मंजूरी देते हैं. ड्यूटी फ्री दुकान से देश में आने वाला विदेशी यात्री आमतौर पर करीब 50,000 रुपये का सामान खरीद सकता है और इस पर उसे आयात शुल्क नहीं देना होता है. इससे सरकार को आमदनी में घाटा होता है. यही कारण है कि प्रति यात्री मात्र एक लीटर शराब खरीद को लागू करने पर विचार हो रहा है. इसके अलावा ड्यूटी फ्री स्टोर से एक कार्टन सिगरेट खरीदने की सुविधा को भी बंद करने का सुझाव दिया है.

सरकार को होता है घाटा
एक अन्य अधिकारी का कहना है कि सरकार देश में गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात को कम करने के विभिन्न उपायों पर गौर कर रही है. सरकार का मानना है कि इन गैर-जरूरी वस्तुओं के आयात से देश का व्यापार घाटा बढ़ता है. वित्त मंत्रालय को सिफारिश की गई है कि सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर ये नियम लागू किया जाए. इससे हमें कम नुकसान होगा. स्थानीय बाजारों से शराब व सिगरेट खरीदी जाती है तो सरकार की आय बढ़ेगी.

300 से ज्यादा वस्तुओं पर भी आयात शुल्क बढ़ाने का विचार
इससे पहले वाणिज्य मंत्रालय की ओर से आयातित खिलौनों और फुटवियरों में भी आयात शुल्क बढा़ने की सिफारिश की गई है. आगामी बजट में वित्त मंत्रालय खिलौनों और फुटवियर के अलावा 300 आइटमों पर आयात शुल्क बढ़ाने का फैसला ले सकती है.