PM मोदी ने किया IIT-भुवनेश्वर का उद्घाटन, ओडिशा को दिया 14 हजार करोड़ का तोहफा

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (24 दिसंबर) आईआईटी-भुवनेश्वर का उद्घाटन किया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा में स्वास्थ्य, सड़क-राजमार्ग, उच्च शिक्षा से जुड़ी करीब 14,500 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ किया. इन परियोजनाओं में 3,800 करोड़ रुपये की इंडियन ऑयल कारपोरेशन की पारादीप-हैदराबाद पेट्रोलियम उत्पाद पाइपलाइन भी शामिल है.

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि विकास के इन सभी प्रोजेक्ट्स के लिए ओडिशा के सभी लोगों को बहुत-बहुत शुभ कामनाएं देता हूं. ये पहली बार है जब किसी केंद्र सरकार द्वारा ओडिशा समेत पूरे पूर्वी भारत के विकास पर इतना ध्यान दिया जा रहा है. उन्‍होंने कहा कि आज आईआईटी भुवनेश्वर को युवाओं के लिए समर्पित करने का सौभाग्य मुझे मिला है. इसके निर्माण में 1260 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं. ये भव्य कैंपस आने वाले समय में ओडिशा के नौजवानों के सपनों के सेंटर तो बनेगा ही, यहां के युवाओं के लिए रोजगार का नया माध्यम भी सिद्ध होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले दिनों में ब्रह्मपुर में करीब 1,600 करोड़ रुपये की लागत से IISER का भी कार्य शुरू होने जा रहा है. ओडिशा के ये नए संस्थान ज्ञान और इनोवेशन की ओडिशा की अपनी पुरातन पहचान को और मजबूत करेंगे. शिक्षा के साथ-साथ जनता के स्वास्थय पर भी केंद्र सरकार ध्यान दे रही है.

उन्‍होंने कहा कि देश के पहले स्वतंत्रता संग्राम में अहम भूमिका निभाने वाली पायका क्रांति के 200 वर्ष पूरे होने पर एक विशेष डाक टिकट और सिक्का भी आज जारी किया गया है. ओडिशा के इंफ्रास्ट्रक्चर से लेकर जन-जन के विकास के लिए तमाम कदम उठाए जा रहे हैं. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि ये काम निरंतर जारी रहेगा.

इसके अलावा 3,437 करोड़ रुपये की बोकारो से अंगुल की पाइपलाइन बिछाने की भी योजना इसमें शामिल है. यह जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो धामरा पाइपलाइनों को जोड़ेगी. पीएम मोदी बरहमपुर में 1,583 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित होने वाले इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च की भी आधारशिला रखी.

इसके अलावा पीएम मोदी राष्ट्रीय राजमार्ग-पांच के चंडीखोले-भदरक खंड (1,492 करोड़ रुपये) के छह लेन मार्ग, राष्ट्रीय राजमार्ग-42 के कटक-अंगुल खंड (1,991 करोड़ रुपये) के चार लेन मार्ग और राष्ट्रीय राजमार्ग-पांच के 132.14 किलोमीटर लंबे भुवनेश्वर-पुइनटोला खंड के छह लेन मार्ग के साथ भुवनेश्वर में ईएसआईसी अस्पताल का भी उद्घाटन किया.