अयोध्या में बोले PM मोदी, ‘नया हिंदुस्तान गोली का जवाब गोले से देता है’

प्रधानमंत्री बनने के बाद आज पहली बार नरेंद्र मोदी अयोध्या पहुंच चुके हैं. पीएम मोदी अयोध्या (फैजाबाद) और अंबेडकरनगर के बीच फैजाबाद के गोसाईंगंज के मया बाजार इलाके में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहेब आम्बेडकर का नाम जिस शहर से जुड़ा हो, जिस शहर से राम मनोहर लोहिया जी का नाम जुड़ा हो. ऐसे शहर में आकर मैं खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. पीएम मोदी ने कहा ये मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम की भूमि है. ये स्वाभिमान की धरती है. देश का स्वाभिमान पिछले 5 साल में और बढ़ा है. उन्होंने कहा कि हम 130 करोड़ लोगों की भुजाओं को साथ लेकर चले हैं, अब इन्हीं भुजाओं की सामर्थ्य पर हम नए भारत का सपना साकार करने की तरफ बढ़ रहे हैं.

विपक्षियों पर साधा निशाना
विपक्षियों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश के 40 करोड़ से ज्यादा श्रमिक भाई-बहनों की इन पार्टियों ने कभी परवाह ही नहीं की. श्रमिकों और गरीबों को वोटबैंक में बांटकर इन लोगों ने सिर्फ अपना और अपने परिवार का फायदा कराया. उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पहली बार देश में किसी सरकार ने गरीबों और श्रमिकों के बारे में सोचा है. हमने उनकी परवाह की है, उनका जीवन आसान बनाने के लिए काम किया है. उन्होंने कहा कि आप लोगों का प्यार देखकर विपक्षियों का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है.

पीएम ने गिनाए सरकार के काम
हमारी सरकार हाल हीं में ‘पीएम श्रम योगी मानधन’ योजना लाई है. इससे श्रमिक साथियों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हजार रुपए तक की पेंशन सुनिश्चित होगी. इसके अलावा हमारी सरकार ने गरीबों के लिए एक रुपये प्रति महीने में दो लाख रुपये का बीमा और प्रति दिन 90 पैसे में दो लाख का एक और बीमा देने का प्रावधान किया है. पीएम मोदी ने कहा ति मैंने हर गरीब के दर्द को समझा है, उसके दर्द को सुना है, उसकी बीमारी को समझा और उसकी जिंदगी को जाना है, इसलिए आयुष्मान भारत योजना से मैं गरीबों की बीमारी से लड़ रहा हूं. बीजेपी ने मिशन इंद्रधनुष के तहत हमने जानलेवा बीमारी से बचाव के लिए टीकाकरण का दायरा बढ़ाया है. उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ भी बड़े स्तर पर गरीब भाई-बहनों को हो रहा है.

योग हमारी संस्कृति का हिस्सा
योग का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति का सदियों से हिस्सा है. लेकिन पूरी दुनिया 21 जून को योग दिवस मनाए, ये काम हमारी सरकार ने किया है. कुंभ भी हज़ारों साल से होता आ रहा है, लेकिन जो दिव्यता और भव्यता इस बार प्रयागराज में दिखी वो अभूतपूर्व है.

अयोध्या में दीपावली का किया जिक्र
पीएम मोदी ने कहा अयोध्या में दीप तो हजारों वर्षों से जलते आए हैं, लेकिन अब जो दीपावली मनाई जाती है, वो दुनियाभर में चर्चा का विषय बनती है. उन्होंने कहा कि जब ASEAN समिट के दौरान, वहां से आए कलाकार अपने-अपने देशों में प्रचलित रामायण के अंश प्रस्तुत करते हैं, तो सबकी नजर जाती है.

ये नया हिंदुस्तान घर में घुसकर मारेगा
आतंकवाद का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि साल 2014 से पहले अयोध्या, फैजाबाद और अन्य जगह कैसे-कैसे धमाके हुए ये हम कैसे भूल सकते हैं. वो दिन हम कैसे भूल सकते हैं जब आए दिन भारत में हमला होता था. बीते पांच वर्ष में इस तरह के धमाकों की खबर आनी बंद हो गई हैं. हम एक नए हिंदुस्तान के रास्ते पर चल पड़े हैं. जो छेड़ता नहीं है, लेकिन कोई छेड़ेगा तो छोड़ता भी नहीं है. खतरा सीमा के भीतर हो या फिर सीमा के पार, ये नया हिंदुस्तान घर में घुसकर मारेगा. गोली का जवाब गोले से देता है. पीएम मोदी ने अयोध्या में अपने भाषण को समाप्त करने से पहले जयश्री राम और भारत माता की जय के नारे लगवाए.

क्या बोले सीएम योगी
सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या आज वैश्विक पहचान के साथ आगे बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि पांच सालों में अयोध्या की तस्वीर बदल गई है. बीजेपी के विकास कार्यों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि भारत की आस्था का सम्मान कैसे होने चाहिए. प्रयागराज के कुम्भ को आपके जरूर देखा होगा. सीएम योगी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश को आगे बढ़ाया है और एक बार फिर देशवासी उन्हें (पीएम मोदी) ही अपना बहुमूल्य मत देकर देश का पीएम बनाएंगे. उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम की पैड़ी को भव्यता दी जा रही है. विकास कार्य रूकेंगे नहीं, बल्कि चलते रहेंगे. उन्होंने जय श्रीराम के नारों के साथ भाषण का समापन किया.

दो लोकसभा प्रत्याशियों के लिए करेंगे संयुक्त जनसभा
पीएम मोदी अयोध्या से करीब 25 किमी दूरी पर रैली को संबोधित करेंगे. इस दौरान 4 से 5 लाख से ज्यादा की संख्या में बीजेपी कार्यकर्ताओं का यहां मौजूद रहेंगे. फैजाबाद (अयोध्या) लोकसभा प्रत्याशी लल्लू सिंह और अम्बेडकरनगर के प्रत्याशी मुकुट बिहारी वर्मा के समर्थन में जन सभा को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री की यह जनसभा दो जिलों के प्रत्याशियों के लिए संयुक्त जनसभा होगी. रैली को लेकर बीजेपी ने ताकत झोंक दी है, तो प्रशासन ने रैली सकुशल संपन्न कराने के लिए अफसरों के साथ ही पुलिस-पीएसी और अर्द्धसैनिक बलों को तैनात किया है.

2014 के बाद दूसरी जमसभा
पीएम नरेंद्र मोदी की अयोध्या में यह दूसरी जनसभा हो रही है. इससे पूर्व 2014 में सीएम रहते नरेंद्र मोदी ने जीआईसी मैदान में जनसभा की थी. पीएम नरेंद्र मोदी के अयोध्या आगमन पर अयोध्या के संतो में ख़ुशी है. लेकिन एक मलाल भी है. संतो का कहना है कि पीएम नरेन्द्र मोदी का अयोध्या में स्वागत है. लेकिन उन्‍हें रामलला के दर्शन जरूर करने चाहि‍ए.

रामलला से दूरी!
पीएम नरेंद्र मोदी अयोध्या में आज पहुंच रहे हैं. लेकिन वह श्री रामलला व हनुमानगढ़ी के दर्शन नहीं करेंगे. यह मसला स्थानीय लोगों के लिए हैरानी की वजह बन गया है. अयोध्या के संतो का कहना है की अयोध्या में पीएम नरेंद्र मोदी का स्वागत है. लेकिन उनको श्री रामलला व हनुमान गढ़ी का दर्शन जरूर करना चाहिए. संतों को इस बात का मलाल है कि पीएम नरेन्द्र मोदी अयोध्या आ कर भी रामलला से दूरी बनाए हुए हैं. संत समाज मानता है कि‍ पीएम मोदी की दूसरी बार की सरकार में राम मंदिर का निर्माण जरूर होगा. साथ ही धारा 370 भी समाप्त होगा.