पंजाब पुल‍िस ने माना, अमृतसर में ग्रेनेड हमला आतंक‍ियों की करतूत

पंजाब पुलिस ने रविवार को कहा कि अमृतसर शहर के बाहरी इलाके में एक धार्मिक समागम में हुआ हमला ‘आतंकी कृत्य’ प्रतीत होता है. पंजाब पुलिस के महानिदेशक सुरेश अरोड़ा ने कहा, ‘इसमें (इस घटना में) आतंक का एक पहलू दिख रहा है क्योंकि यह एक समूह (लोगों के) के खिलाफ है, न कि किसी एक व्यक्ति के. लोगों के समूह पर ग्रेनेड फेंकने का कोई कारण नहीं है, इसलिए हम इसे एक आतंकी हरकत के तौर लेंगे. साबित होने तक हम प्रथम दृष्टया इसे इसी रूप में लेंगे.’

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि निरंकारी भवन में किसी संभावित हमले को लेकर कोई खास खुफिया जानकारी नहीं थी. इस हमले में तीन लोगों की मौत हो गई है और कम से कम 10 लोग घायल हुये हैं. यह हमला अमृतसर में राजासांसी के अदलीवाल गांव में स्थित निरंकारी भवन में हुआ. यह इलाका अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा के निकट है. हमले के समय वहां निरंकारी पंथ का धार्मिक समागम चल रहा था. उस वक्त वहां करीब 200 श्रद्धालु मौजूद थे.

वहां कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं था. उन्होंने कहा, ‘हमने राहत एवं बचाव अभियान शुरू किया है.’ हमले के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कानून व्यवस्था की समीक्षा की और राज्य के गृह सचिव, डीजीपी (कानून व्यवस्था) और डीजी खुफिया को राजासांसी रवाना होने का निर्देश दिया.

अमृतसर में पगड़ीधारी दो युवकों ने फेंका ग्रेनेड, इस मामले में पर्याप्त सुराग : गृह मंत्रालय
अमृतसर में रविवार को एक धार्मिक समागम पर पगड़ीधारी दो युवकों ने हथगोला फेंका जिससे तीन लोगों की मौत हो गयी एवं कम से कम 10 अन्य घायल हुए. केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी दी. प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार राजा सांसी गांव में मोटरसाइकिल से आए पगड़ीधारी दो युवकों ने एक प्रार्थना सभागार पर ग्रेनेड फेंका। उस वक्त सभागार में करीब 200 लोग थे.

गृह मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार पंजाब पुलिस और केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने जांच शुरु कर दी है लेकिन अभी किसी निष्कर्ष पर पहुंचना जल्दबाजी होगा. अधिकारियों के अनुसार इस मामले में पर्याप्त सुराग हैं और जांच सही दिशा में बढ़ रही है. मंत्रालय के एक अन्य अधिकारी के अनुसार पंजाब पुलिस ने अतीत में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सात स्वयंसेवकों की हत्या की ‘शानदार’ जांच की और वह ऐसी अन्य घटनाओं के पीछे की साजिश को बेनकाब करने में समर्थ है.

अमृतसर में राजासांसी के समीप अदलीवाल गांव में निरंकारी भवन में निरंकारी समागम के दौरान ग्रेनेड धमाका हुआ. यह जगह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास है. ऐसी खबर आने के बाद कि जैश-ए-मोहम्मद के छह सात सदस्य राज्य में संभवत: फिरोजपुर में कथित रूप से हैं, पंजाब अलर्ट पर है. पठानकोट जिले के माधोपुर में पिछले हफ्ते चार व्यक्तियों ने बंदूक का भय दिखाकर एक व्यक्ति से एसयूवी कार छीन ली थी जिसके बाद राज्य को अलर्ट रखा गया है.