SBI ने दूर किया कन्‍फ्यूजन, ऐसे ग्राहकों की कल से बंद होगी नेट बैंकिंग

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) पिछले काफी समय से नेट बैंकिंग यूज करने वाले ग्राहकों को अलर्ट कर रहा है. बैंक की तरफ से ऑफिशियल वेबसाइट के अलावा एसएमएस के जरिये मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए कहा जा रहा है. बैंक की तरफ से कहा गया कि जो ग्राहक 30 नवंबर तक ब्रांच में अपना मोबाइल नंबर अपडेट नहीं कराएंगे, ऐसे ग्राहकों की 1 दिसंबर 2018 से नेट बैंकिंग की सुविधा बंद कर दी जाएगी. बैंक के इस अलर्ट से काफी ग्राहक कन्‍फ्यूज हैं. ग्राहकों को यह समझ नहीं आ रहा कि बैंक की तरफ से किन कस्‍टमर को अलर्ट किया जा रहा है. हमारी सहयोगी वेबसाइट www.zeebiz.com/hindi के अनुसार बैंक के एक अधिकारी ने कहा कि यह अलर्ट उन ग्राहकों के लिए है जिन्‍होंने ई-केवाईसी नहीं कराया है और 3D पिन सुविधा के जरिये नेट बैंकिंग इस्‍तेमाल कर रहे हैं. 3D पिन सुविधा में मोबाइल नंबर की जरूरत नहीं पड़ती.

परेशान न हों ऐसे ग्राहक
बैंक के इस अलर्ट पर एसबीआई कस्‍टमर रितु त्रिपाठी ने सवाल किया-मेरा मोबाइल नंबर बैंक खाते में अपडेट है और मैं भी नेट बैंकिंग इस्‍तेमाल करती हूं. लेकिन क्‍या एसबीआई का यह नोटिफिकेशन सभी ग्राहकों के लिए है. क्‍या मुझे भी नंबर दोबारा अपडेट कराना होगा? SBI के आधिकारिक बयान के मुताबिक, बैंक समय-समय पर ग्राहकों से अपना पता व नंबर अपडेट कराने के लिए कहता है. यह रूटीन है. इससे उन ग्राहकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है जिनका मोबाइल नंबर बैंक खाते में ई-केवाईसी में अपडेट हो चुका है.

नंबर अपडेट लेकिन फिर भी नेटबैंकिंग सुविधा नहीं
एक अन्‍य ग्राहक अभिषेक कुमार की परेशानी कुछ अलग है. उन्‍होंने बताया कि उन्‍होंने कुछ वर्ष पहले एसबीआई की एक शाखा में खाता खुलवाया था. उस खाते में नेट बैंकिंग एक्टिव थी. लेकिन किसी कारणवश उन्‍हें वह खाता बंद करना पड़ा. बाद में नया खाता खुलवाया लेकिन उसमें नेट बैंकिंग एक्टिवेट नहीं हो पा रही. बैंक वाले इसका कारण रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर बताते हैं. बैंक ब्रांच का कहना है कि पहले आपको बंद खाते में दिया गया नंबर हटवाना होगा, तभी नए खाते में नेट बैंकिंग की सुविधा मिल पाएगी.

क्‍या करें ग्राहक
SBI के आधिकारिक बयान के मुताबिक, ग्राहक को मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए ब्रांच में जाना होगा. एसबीआई के संदेश के मुताबिक, इंटरनेट बैंकिंग यूजर, हमारे पास अपना मोबाइल नंबर तत्‍काल अपडेट कराएं, अगर करा चुके हैं तो इस संदेश को इग्‍नोर करें. मोबाइल नंबर अपडेशन ब्रांच से ही होगा. यह अपडेशन 1 दिसंबर 2018 से पहले हर हाल में हो जाना चाहिए.

क्‍या कहता है रिजर्व बैंक का नियम
एसबीआई के अधिकारी का कहना है कि बैंक ने रिजर्व बैंक (RBI) के सर्कुलर पर यह नोटिफिकेशन जारी किया था. आरबीआई ने 6 जुलाई 2017 को एक सर्कुलर जारी कर कहा था कि बैंक अपने ग्रा‍हक का मोबाइल नंबर हर हाल में रजिस्‍टर करें ताकि उन्‍हें एसएमएस से बैंकिंग अपडेट मिलता रहेगा.

3डी पिन ऑप्‍शन भी हो सकता है बंद
एक बैंकर ने कहा कि बैंक इसलिए भी मोबाइल नंबर अपडेट कराने को कह रहा है क्‍योंकि वह ग्राहक को 3डी सिक्‍योर पिन सुविधा से ओटीपी जनरेट कर भुगतान करने वाली सुविधा पर ट्रांसफर करना चाहता है. 3डी सिक्‍योर सर्विस को बैंक कुछ समय बाद बंद कर सकता है. ऐसा इसलिए भी क्योंकि, बैंक ओटीपी वेरिफिकेशन को ज्यादा सिक्योर मानता है.