COVID 19: ट्रेन के बाद अब फ्लाइट्स को लेकर फैसला, तीन मई तक उड़ान नहीं भरेगा कोई भी यात्री जहाज

कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन 3 मई तक के लिए बढ़ा दी है. इस बीच उन्होंने अपील की है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करें. लॉकडाउन की घोषणा के बाद नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने बड़ा एलान किया है. मंत्रालय ने कहा है कि सभी उड़ानों को स्थगित कर दिया गया है. वहीं, रेलवे ने भी सभी यात्री ट्रेनों का संचालन 3 मई तक के लिए टाल दिया है.

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा, ”सभी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उड़ाने 3 मई रात 11.59 मिनट तक के लिए स्थगित कर दी गई है.” इससे पहले भी लॉकडाउन की घोषणा के बाद देश भर में सभी उड़ानों को स्थगित कर दिया गया था.

3 मई तक लॉकडाउन की घोषणा के बाद रेलवे ने भी यात्री ट्रेनों का संचालन तीन मई तक बंद करने का फैसला किया है. भारतीय रेलवे से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि यात्री ट्रेनों का संचालन अब तीन मई तक के लिए टाल दिया गया है. हालांकि, देश भर में जरूरी सामानों को पहुंचाने के लिए मालगाड़ी चलती रहेगी.

रेलवे ने कहा, ”यह निर्णय लिया गया है कि प्रीमियम ट्रेनों, मेल, एक्सप्रेस ट्रेनों, पैसेंजर ट्रेनों, उपनगरीय ट्रेनों, कोलकाता मेट्रो रेल, कोंकण रेलवे आदि सहित भारतीय रेलवे की सभी यात्री ट्रेन सेवाएं 3 मई 2020 तक रद्द रहेंगी.”

वहीं यात्री गाड़ियों के पटरी से हटते ही मालगाड़ी चार गुनी रफ़्तार से दौड़ रही हैं. अनाज, फल, सब्ज़ी, चीनी, नमक, दूध जैसी सभी चीजों को आपके शहर तक पहुंचाने का बीड़ा रेलवे उठा रही है.