1 जनवरी से 22 हजार से 5 लाख तक महंगी हो जाएंगी इस बड़ी कंपनी की कारें

 जापान की वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा (Toyoto) की भारतीय इकाई टोयोटाकिर्लोस्कर मोटर इंडिया 1 जनवरी 2019 से अपने वाहनों की कीमतों में चार प्रतिशत तक की बढ़ोतरी करेगी. कंपनी की तरफ से मंगलवार को कहा गया कि रुपये में गिरावट से उसकी मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट बढ़ रही है, इस कारण कंपनी ने दामों में इजाफा करने का फैसला किया है. टोयोटा की तरफ से कहा गया कि बढ़ती लागत के लगातार दबाव का नियमित आकलन करने के बाद वह कीमत में इजाफे पर विचार कर रही है. कंपनी ने कहा, ‘रुपये में गिरावट के कारण उसकी लागत पर काफी प्रभाव पड़ा है.’

अतिरिक्त लागत के कारण बढ़ रही कीमत
कंपनी की तरफ से कहा गया कि टोयोटा लंबे समय से अतिरिक्त लागत का बोझ उठा रही थी, ताकि ग्राहकों को कीमत में बढ़ोतरी से बचाया जा सके. कंपनी ने कहा, ‘उच्च लागत का दबाव लगातार बने रहने के चलते हमें इसका कुछ बोझ ग्राहकों के ऊपर डालना होगा. टोयोटा 1 जनवरी 2019 से सभी मॉडलों की कीमत 4 प्रतिशत तक बढ़ाने पर विचार कर रही है.’

एंट्री लेवर कार की कीमत 5.25 लाख
कंपनी अभी देश में हैचबेक लीवा से एसयूवी लैंड क्रूजर जैसे कई वाहन मॉडल की बिक्री करती है. इनकी कीमत 5.25 लाख रुपये से 1.41 करोड़ रुपये के बीच है. इस हिसाब से कारों की कीमत में करीब 22 हजार रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक की बढ़ोतरी हो सकती है. इससे पहले महिंद्रा ने पिछले दिनों लॉन्च की गई एमपीवी मराजो की कीमत में जनवरी से बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है.

महिंद्रा की तरफ से कहा गया कि एमपीवी मराजो की कीमत में 1 जनवरी 2019 से 30 से 40 हजार रुपये बढ़ जाएगी. मराजो को कंपनी इसी साल सितंबर में पेश किया था. इसकी शुरुआती कीमत 9.99 लाख रुपये है. कार के टॉप वेरिएंट की एक्स शोरूम कीमत 13.90 लाख रुपये है. एमपीवी मराजो महिंद्रा की अब तक की सबसे बड़ी पैसेंजर कार है. मेराजो को कुल चार वेरिएंट M2, M4, M6 और M8 के नाम से लॉन्च किया गया है. M2 मेराजो का बेस वेरिएंट है.