PM मोदी के ऐलान के बाद सीमा सुरक्षा में बढ़ेगी NCC की भागीदारी, रक्षा मंत्री ने दी इस फैसले को मंजूरी

राष्ट्रीय कैडेट कॉर्प्स अब सीमा और तटवर्ती इलाकों में भी अपनी सेवाएं देगी. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी के विस्तार से जुड़े उस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है, जिसके तहत सभी 173 बार्डर और तटीय जिलों के युवाओं को बड़े पैमाने पर अपनी भागीदारी निभाने का मौका मिलेगा. आपको बता दें कि 15 अगस्त को लाल किले से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘हर काम देश के नाम’ की बात करते हुए युवा शक्ति को बड़े पैमाने पर देश सेवा से जोड़ने का जिक्र किया था.

देश सेवा से जुड़ेगी 1 लाख युवा शक्ति
173 सीमावर्ती और तटीय इलाकों से एनसीसी में 1 लाख नए कैडेट्स भर्ती किए जाएंगे, जिसमें एक तिहाई संख्या लड़कियों की होगी. इस प्रोजेक्ट के तहत 1 हजार से ज्यादा स्कूल और कॉलेज को चिन्हित किया गया था. और सरकारी मंजूरी मिलने के बाद इस प्लान के तहत कुल 83 एनसीसी यूनिट अपग्रेड की जाएंगी.

सेना में अभी इतनी भागीदारी
सेना की सीधी देख रेख में काम करने वाली इन 83 यूनिट्स में थलसेना की 53 , नौसेना की 20 और वायुसेना की 10 यूनिट तैनात हैं.

आपको बताते दें कि एनसीसी के विस्तार की इस परियोजना को राज्यों के सहयोग से तैयार किया जाएगा. सरकार का मानना है कि ऐसा करने से देश भर के युवाओं को सेना में काम करने के लिए प्रेरणा मिलेगी. वहीं फैसला लागू होने से सीमा पर बढ़ने वाले युवा जोश का फायदा पूरे देश को होगा.