पूर्व DSP दविंदर सिंह मामले में NIA ने की एक और गिरफ्तारी, जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को पहुंचा रहा था मदद

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दागी पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) दविंदर सिंह के मामले में जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवादियों को मदद मुहैया कराने के लिए एक कथित आतंकी तारिक अहमद मीर को गिरफ्तार किया है। एजेंसी ने गुरुवार (30 अप्रैल) को इस बात की जानकारी दी।

जांच से जुड़े एनआईए के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “हमने मीर को कश्मीर में आतंकवादियों को लॉजिस्टिक मदद मुहैया कराने में उसकी कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार किया है।” अधिकारी ने कहा कि मीर लंबे समय से आतंकवादियों के साथ सक्रिय था और कई मौकों पर घाटी में उसने आतंकवादियों को समर्थन दिया था।

जांच से जुड़े एनआईए के एक सूत्र ने यह भी कहा कि मीर, डीएसपी दविंदर सिंह के संपर्क में भी था। आतंकवाद निरोधक एजेंसी सिंह के मामले की जांच कर रही है। एनआईए सूत्र ने कहा, “हमने इस बात की पुष्टि की है कि वह (मीर) कुछ समय तक सिंह के संपर्क में रहा था। हम उनके संबंधों की जांच करने के साथ ही इस बात को भी देखेंगे कि क्या कोई अन्य पुलिस अधिकारी भी तो मीर के संपर्क में नहीं था।”

सूत्र ने कहा कि आने वाले दिनों में और अधिक गिरफ्तारियां की जाएंगी। गौरतलब है कि जम्मू एवं श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर 11 जनवरी को पुलिस ने आंतकी नावेद, रफी और इरफान को जम्मू लेकर जा रहे सिंह को गिरफ्तार किया था। जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने मामले की प्रारंभिक जांच करने के बाद एनआईए को केस सौंप दिया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दोनों आतंकवादियों और वकील ने जम्मू पहुंचने के बाद पाकिस्तान जाने की योजना बनाई थी।