बलिया में बोले पीएम मोदी, मैं भले ही पिछड़ी जाति में पैदा हुआ, लेकिन कभी जाति के नाम पर वोट नहीं मांगा

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बलिया में जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि ‘महामिलावटी’ गाली की जगह चुनौती कबूल करें. मुझे दी गई गालियों का हिसाब जनता देगी. उन्‍होंने आगे कहा कि महामिलावटियों ने देश की जनता को लूटा है.

प्रधानमंत्री द्वारा कही गई बातें…

-करोड़ों के बंगले, बेनामी संपत्ति मैंने बनाई है क्‍या?

-हर गाली का जवाब देश की जनता देगी.

-महामिलावटी बताएं मेरी कोई बेनामी संपत्ति है क्‍या?

-मेरी एक ही जाति है और वो है गरीबी

-मैं गरीबी के खिलाफ बागी हो गया हूं.

-भ्रष्‍टाचारी मुझे हटाने की दुआ कर रहे हैं.

-महामिलावटियों ने बेनामी संपत्ति का अंबार लगाया.

-मेरा संकल्‍प गरीबी को दूर करना है.

-महमिलावटी लोग सिर्फ़ मोदी को गालियां देने में जुटे हैं.

-इन गलियों का जवाब आपको कमल का बटन दबाकर देना है.

-ये बुआ-बबुआ जितने साल मिलकर सीएम रहे हैं, मैं अकेले इनसे ज़्यादा दिन गुजरात में CM रहा.

-महमिलावटी मेरी जाति पूछ रहे हैं.

-मैं भले ही पिछड़ी जाति में पैदा हुआ हूं, लेकिन कभी जाति के नाम पर वोट नहीं मांगा.