पीएम मोदी को हवाई यात्रा के लिए मिलने वाला है ‘एयरफोर्स वन’ जैसा बेहद सुरक्षित विमान, अगले महीने होगी डिलीवरी

प्रधानमंत्री मोदी को बहुत जल्द एक अभेद्य किला मिलने वाला है. आसमान में उड़ने वाला ये किला इतना सुरक्षित है कि दुश्मन चाहे तो भी कुछ कर नहीं सकता. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप जिस विमान में सफर करते हैं, ठीक वैसा ही विमान अब पीएम नरेंद्र मोदी भी इस्तेमाल करने वाले हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के एयरफोर्स वन जहाज की तरह का जहाज का पीएम नरेंद्र मोदी के लिए तैयार हो चुका है, ये बोइंग 777 विमान है जिसे अमेरिका में एक अभेद्य हवाई किले की तरह बदल दिया गया है.

क्या है पीएम मोदी के इस विशेष विमान की खासियत?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बने इस बेहद खास जहाज के अगले हिस्से में EW जैमर लगा है. ये दुश्मन रडार के सिग्नल को जाम कर देता है, इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल को जाम कर देता है, जिससे अगर इसके ऊपर मिसाइल फायर की गयी है तो उसे टारगेट नहीं मिल पाता.

इस जैमर को मिसाइल की जानकारी देता है. विमान के पिछले हिस्से में लगा मिसाइल अप्रोच सिस्टम, जैसे ही इसके ऊपर कोई मिसाइल फायर होती है, ये फौरन अलर्ट कर देता है. इसके साथ ही ये मिसाइल कितनी दूर है, कितनी स्पीड से आ रही है, और कितनी ऊंचाई पर ही इसकी भी जानकारी देता है.

इसके अलावा हीट सिंक मिसाइलों से बचाव के लिए इसमें फ्लेयर्स लगे हैं. जैसा कि नाम से ही जाहिर है, ये ऐसी मिसाइलें होती हैं जो गर्मी की ओर आकर्षित होती हैं, इन फ्लेयर्स से इतनी गर्मी निकलती है जिससे मिसाइल की दिशा भ्रमित की जा सकती है.

इसके अलावा इसमें एक मिरर बॉल सिस्टम भी लगा है, इसका काम है इंफ्रारेड सिग्नल को जाम करना, क्योंकि आजकल की आधुनिक मिसाइलें इंफ्रा रेड नेविगेशन सिस्टम से चलती हैं, उनके सिग्नल को ये जाम कर देता है, जिससे मिसाइल नाकाम हो जाती है.

यही नहीं इसमें सबसे आधुनिक और सिक्योर सैटेलाइट कम्यूनिकेशन सिस्टम भी लगा है. यानी इसके ज़रिए पीएम मोदी ना सिर्फ ग्राउंड पर संपर्क में रह सकते हैं बल्कि दुनिया के किसी भी कोने में बातचीत कर सकते हैं. बेहद सुरक्षित होने से उनकी बातचीत को टेप भी नहीं किया जा सकता.

पीएम और राष्ट्रपति के लिए ऐसे दो विमान लिए गए हैं. इनमें से एक विमान अगले महीने ही डिलिवर होने वाला है. इसे एयरफोर्स के पायलट उड़ाएंगे और इसका कॉल साइन इंडियन एयरफोर्स वन रखा जा सकता है. इन दोनों विमानों की कीमत करीब 8458 करोड़ रूपए है.