लॉकडाउन में पुलिस कॉन्स्टेबल ने पहुंचाया अस्पताल, मां ने उन्हीं के नाम पर रख दिया बेटे का नाम

लॉकडाउन में दिल्ली पुलिस हर तरह से लोगों की मदद करती दिख रही है. इस दौरान पुलिस की गाड़ियां कई गर्भवती महिलाओं को अस्पताल पहुंचा चुकी है. दिल्ली से अब ऐसा ही एक और मामला सामने आया है. गर्भवती महिला ने पुलिस हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके मदद मांगी, तो एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने महिला अस्पताल में भर्ती कराया. जहां महिला ने बेटे को जन्म दिया.

अब महिला ने अपने नवजात बेटे का नाम उस पुलिस कॉन्स्टेबल दयावीर सिंह के नाम पर ही रख दिया. ये खबर मिलते ही पुलिस कॉन्स्टेबल दयावीर सिंह काफी खुश हैं. उन्होंने कहा, “मुझे खुशी है कि मैं मुश्किल समय में उनकी मदद कर सका. मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं.”

बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट ने एक याचिका पर केंद्र और दिल्ली सरकार ये सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि हॉटस्पॉट में रहने वाली गर्भवती महिलाएं किसी तरह की परेशानी का सामना न करें.

हॉटस्पॉट्स में गर्भवती महिलाओं के लिए क्या है रणनीति

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कोरोना वायरस से अति प्रभावित जिलों में गर्भवती महिलाओं की जांच के लिए रणनीति जारी की है. आईसीएमआर ने कहा कि कि कोरोना वायरस संक्रमण से अति प्रभावित जिले के किसी हिस्से या संक्रमण की अधिकता वाले क्षेत्र में रह रहीं वैसी गर्भवती महिलाएं जो प्रसव पीड़ा में हों या अगले पांच दिन में बच्चे को जन्म देने वाली हों, उन्हें संक्रमण की जांच करानी चाहिए भले ही उनमें कोई लक्षण नहीं दिखते हों.

उन्होंने कहा कि महिलाओं को ऐसे स्थान पर नहीं भेजना चाहिए जहां जांच की सुविधा नहीं हो. आईसीएमआर ने कहा, “गर्भवती महिलाओं की जांच आईसीएमआर की जांच रणनीति के आधार पर होनी चाहिए.”