जम्मू-कश्मीर में सियासी हलचल, NC नेता का दावा- राम माधव ने संपर्क किया

जम्मू-कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता मियां अल्ताफ अहमद ने दावा किया है कि उनसे भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने संपर्क किया था. अहमद ने कहा है कि भाजपा नेता खालिद जहांगीर ने 28 अगस्त को फोन कर उनसे राष्ट्रीय महासचिव राम माधव से मिलने के लिए कहा. जहांगीर ने कहा कि राम माधव मुझसे मिलने मेरे आवास आएंगे.

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता मियां अल्ताफ ने इस संबंध में बयान जारी किया है. मीडिया को जारी बयान में नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता ने कहा है कि जवाब में खालिद को धन्यवाद कहा और साथ ही यह भी कि उनके साथ कुछ भी नहीं करने वाला. ऐसे में राम माधव को मेरे घर आने की जरूरत नहीं. मियां अल्ताफ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वे उनसे प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से कभी नहीं मिले.

उन्होंने खालिद जहांगीर को भेजा गया मैसेज कोट करते हुए कहा है कि मेरी ओर से उन्हें यह जवाब दिया गया कि कृपया राम माधव को तुरंत मेरे घर न आने के लिए बोलिए. मियां अल्ताफ अहमद ने बताया कि खालिद से यह भी कहा कि मुझसे किसी तरह की राजनीतिक चर्चा न करें. उन्होंने कहा कि अब इसे अपने लोगों को बताना चाहता हूं कि भाजपा या सरकार ने राम माधव को सलाह दी होगी. वे कोई ड्रामा करेंगे, मुझे परेशान करेंगे और आतंकियों को दोष देंगे. जनता सब समझ रही है.

गौरतलब है कि कश्मीर में भाजपा से नेताओं के पलायन सा चल पड़ा था. लगभग एक महीने में दर्जन भर से अधिक नेता भाजपा से इस्तीफा दे चुके हैं. इसके पीछे घाटी में भाजपा नेताओं की लगातार हत्या की वारदात वजह है. केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने हाल ही में प्रदेश अध्यक्ष के साथ आतंकियों की गोली का शिकार बने नेताओं के परिजनों से मुलाकात कर ढांढस बंधाया था और नेताओं को पर्याप्त सुरक्षा के लिए पुलिस अधिकारियों से भी बात की थी.