गर्भवती हथिनी हत्या मामला: एक आरोपी गिरफ्तार, दो की तलाश अब भी जारी

केरल में गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. ये पता चला है कि जिसकी गिरफ्तारी हुई है वो खेतों में काम करता है. एक दिन पहले हथिनी की मौत की जांच कर रही केरल की वन विभाग की टीम ने दो लोगों को हिरासत में लिया था.

केरल के मलप्पुरम में गर्भवती हथिनी की मौत पर पूरा देश गुस्से में है. गर्भवती हथिनी जब खाने की तलाश में जंगल के पास एक गांव में पहुंची तो कुछ शरारती तत्वों ने अनानास विस्फोटक के साथ उसे खिला दिया था. विस्फोट के कारण जबड़े टूट गए. दर्द इतना बढ़ा कि वह खाना पानी नहीं ले सकी. कमजोर पड़ी और पानी में ही डूब कर मर गई. इस मामले में पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. हथिनी पलक्कड़ जिले के साइलेंट वैली नेशनल पार्क में रहती थी. स्थानीय मनारकाडु पुलिस स्टेशन ने बुधवार को इस दर्दनाक घटना को लेकर एक मामला दर्ज किया गया है.

पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में खुलासा

गर्भवती हथिनी की प्राथमिक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि विस्फोट के कारण हथिनी के मुंह पर घाव हुए. हथिनी कई दिनों से भूखी रही और 10 से 12 दिनों से काफी दर्द में थी. इस दर्द के कारण वह भोजन-पानी भी नहीं ले सकी, जिसके कारण वह कमज़ोर हो गई थी और वह पानी में गिर गई थी और डूबने लगी थी. कैविटी में घाव सेप्सिस का कारण बने. रिपोर्ट के मुताबिक, डूबने के कारण हथिनी के शरीर के अंदर काफी पानी चला गया था और फेफड़ों ने काम करना बंद कर दिया.

मामले में जांच के आदेश देने के बाद मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा है कि जांच टीमों की नजर तीन संदिग्धों पर है. विजयन ने घटना में दोषी पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का दावा किया है. वहीं सोशल मीडिया पर लोग दोषियों को कड़ा दंड देने की मांग कर रहे हैं.