जम्मू: अमेरिका में बाघिन को कोरोना होने के बाद सख्ती, जानवरों पर रखी जा रही नजर

अमेरिका के एक चिड़ियाघर में बाघ के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद जम्मू की मांडा वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में जानवरों पर निगरानी बढ़ा दी गयी है. इस वाइल्ड लाइफ सेंचुरी को हालांकि आम जनता के लिए पहले ही बंद कर दिया गया था.

अमेरिका के न्यूयॉर्क के एक चिड़ियाघर में एक बाघ के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में प्रदेश के सभी चिड़ियाघरों और वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में जानवरों की दिन रात देखरेख और इनके व्यवहार पर नजर रखी जा रही है. हालांकि, यहां तैनात कर्मचारियों की संख्या को कम कर दिया गया है. लेकिन जानवरों को खाना खिलाने वाले, पिंजरों की सफाई करने वाले और इन पर नजर रखने वालों को अलग-अलग शिफ्ट्स में बुलाया जा रहा है ताकि यहां के जानवरों पर नजर रखी जा सके.

इस वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में तैनात डॉक्टर रंजीत कोतवाल के मुताबिक अब तक कोरोना आदमी से आदमी में फैलता था लेकिन अब यह मनुष्यों से जानवरों में भी फैल रहा है. उन्होंने कहा कि इस वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के जानवरों के पास जो भी कर्मचारी आता है उनके लिए प्रोटेक्टिव गियर पहनना अनिवार्य कर दिया गया है. इसके साथ ही पूरे वाइल्ड लाइफ सेंचुरी को समय-समय पर सैनिटाइज किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि इन जानवरों के व्यवहार पर हमेशा नजर रखी जा रही है और अगर किसी भी जानवर में कोई असामान्य व्यवहार पाया जाता है तो इसकी सूचना तुरंत वरिष्ठ
अधिकारियों को दी जाएगी. हालांकि, यहां से अच्छी खबर यह है कि फिलहाल किसी भी जानवर में कोई भी असामान्य व्यवहार नहीं पाया गया है.