J&K: लॉकडाउन के दौरान भी घरों में नहीं रुक रहे लोग

लॉकडाउन के दूसरे चरण के दौरान प्रशासन ने काफी सख्ती अपनाई, ताकि लोग अपने घरों से बाहर न निकल सकें, लेकिन लोग घरों में बैठने को तैयार ही नहीं हैं। बुधवार को स्टेशनरी की दुकानें भी दिन में दो बजे से लेकर शाम के पांच बजे तक खुलीं। इस दौरान स्टेशनरी की दुकानों पर भी लोगों की भीड़ रही और लोगों ने अपने बच्चों की किताबों को खरीदा।

बुधवार की सुबह 10 बजे जरूरत के सामान की सभी दुकानें खुलीं और दो बजे बंद हो गई। इस दौरान बाजारों में लोगों की काफी चहल-पहल देखने को मिली। लोग बिना किसी कार्य के भी बाजारों में टहलते हुए नजर आए। दो बजे जरूरत के सामानों की दुकानें बंद हो गई। इसके बाद स्टेशनरी व मोबाइल की दुकानें खुल गई। उसी दौरान स्टेशनरी की दुकानों में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई, जिससे दुकानदारों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ा। दुकानदार ग्राहकों को शारीरिक दूरी बनाकर रखने के लिए बार बार कहते रहे, ताकि लोग एक दूसरे से दूरी बनाकर खड़े हों। वहीं, इस दौरान पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी बाजारों का दौरा करते रहे और लोगों को घरों के अंदर ही रहने को कहते रहे।