कोरोना वायरस संकट पर बोलें CDS बिपिन रावत- सब्र बनाए रखना जरूरी, बेसब्र होने का समय नहीं

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा कि बतौर सेना कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में हम अपनी जिम्मेदारी समझते हैं. कोरोना वायरस से आर्मी, नेवी और एयरफोर्स बहुत सीमित संख्या में प्रभावित हुई है. नेवी में जैसे ही केस का पता चला नेवी ने तुरंत प्रतिक्रिया की और ये सुनिश्चित किया कि संक्रमण आगे न फैले.

जनरल रावत ने कहा, “सेना में अनुशासन बनाए रखना मुश्किल नहीं है लेकिन मुझे लगता है कि हमें सब्र बनाए रखने की जरूरत है. हमने सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने, जिन लोगों को क्वॉरंटीन में रहने की जरूरत है वो क्वॉरंटीन में रहें, इसको लेकर बहुत सख्त दिशानिर्देश जारी किए हैं. जितनी भी मीटिंग, कांफ्रेंस हो रही हैं वो वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हो रही हैं.”

“सख्ती से अनुशासन और सब्र को बनाए रखना जरूरी”

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) ने कहा, इस समय हमारे लिए सख्ती से अनुशासन और सब्र को बनाए रखना बहुत जरूरी है. हम जानते हैं कि जब देश में लॉकडाउन हो और लोगों को घर में रहने को कहा जाए तब वो बेसब्र हो जाते हैं. लेकिन ये बेसब्र होने का समय नहीं है.

उन्होंने आगे कहा, “मुझे लगता है कि कोरोना वायरस से लड़ने में हमारे देश ने अच्छा किया है और हम आगे भी अच्छा करेंगे, जब तक कि हम समय-समय पर जारी किए जा रहे दिशानिर्देशों का पालन करेंगे. अनुशासन और सब्र हमें इस बड़ी परेशानी पर जीत हासिल करने में मदद करेगा.”