स्वतंत्रता दिवस के पहले जम्मू में सुरक्षा बढ़ायी गयी, त्वरित कार्रवाई दल तैनात

जम्मू क्षेत्र में स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले सुरक्षा बढ़ा दी गयी है और सघन जांच एवं गश्त की जा रही है। पुलिस के एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बहुस्तरीय सुरक्षा के तहत पुलिस ने किसी भी स्थिति से निपटने के लिए जम्मू शहर में अतिरिक्त त्वरित कार्रवाई दलों (क्यूआरटी) को तैनात किया है।

अधिकारी ने बताया कि जम्मू में मुख्य समारोह मिनी स्टेडियम परेड में आयोजित किया जाएगा जिसे सुरक्षा व्यवस्था के तहत सील कर दिया गया है। केंद्रशासित क्षेत्र प्रशासन ने कोरोना वायरस मामलों में वृद्धि के कारण कुछ सौ लोगों को ही समारोह भाग लेने की अनुमति देने का फैसला किया है, अधिकारियों ने बताया कि वाहनों की जांच पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है और जम्मू-पठानकोट तथा जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर विशेष रूप से जांच की जा रही है। पुलिस ने सभी ट्रक ड्राइवरों और उनके सहायकों का रिकॉर्ड रखने के लिए एक मोबाइल ऐप भी बनाया है ताकि आतंकवादियों के प्रवेश और हथियारों की तस्करी को रोका जा सके।उन्होंने कहा कि सीमा की सुरक्षा भी कड़ी कर दी गयी है और सभी सीमावर्ती सड़कों पर कड़ी नजर रखी जा रही है।

अधिकारी ने कहा, “पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल को तैनात किया गया है और 24 घंटों गश्त और गहन जांच का जिम्मा सौंपा गया है।” जम्मू के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीधर पाटिल ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस पर शांति सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्य समारोह स्थल के आसपास विशेष प्रबंध किए गए हैं और शांति बनाए रखने के लिए लोगों से सहयोग मांगा गया है।जम्मू के संभागीय आयुक्त संजीव वर्मा ने संबंधित उपायुक्तों के साथ स्वतंत्रता दिवस समारोह की व्यवस्था की समीक्षा की। अधिकारियों ने बताया कि समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम शामिल नहीं होंगे और कोरोना वायरस को देखते हुए मार्च पास्ट में भी प्रतिभागियों की संख्या कम की जाएगी। अधिकारियों ने कहा कि समारोहों के दौरान कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया जाएगा।