19 साल के सिदक सिंह ने दोहराया अनिल कुंबले का रिकॉर्ड, एक पारी में झटके 10 विकेट

19 साल के सिदक सिंह ने सीनियर क्रिकेट में आगाज से पहले ही ऐसा रिकॉर्ड बना लिया है, जो बड़े-बड़े दिग्गज पूरे करियर में नहीं कर पाते हैं. सिदक सिंह ने पुडुचेरी की ओर से खेलते हुए शनिवार को अंडर-23 सीके नायडू ट्रॉफी में एक ही पारी में 10 विकेट झटके. उनकी इस शानदार गेंदबाजी की बदौलत पुडुचेरी ने मणिपुर को 71 रन पर समेट दिया.

बनारस में जन्मे 19 साल के सिदक सिंह 2015 में मुंबई की ओर से सात टी20 मैच खेल चुके हैं. तब वे मुंबई के लिए डेब्यू करने वाले दूसरे सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने थे. उन्होंने 15 साल की उम्र में मुंबई की ओर से मैच खेला था. मुंबई की ओर से सबसे कम उम्र में डेब्यू करने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है. उन्होंने 14 साल की उम्र में मुंबई के लिए पहला मैच खेला था.

17.5 ओवर में झटके सभी 10 विकेट

लेफ्ट आर्म स्पिनर सिदक सिंह बाद में मुंबई की टीम छोड़ पुडुचेरी के लिए खेलने लगे. उन्होंने शनिवार को 17.5 ओवर में 31 रन खर्च कर 10 विकेट झटके. उन्होंने सात ओवर मेडन फेंके. सिदक सिंह के छोटे से करियर में संदिग्ध बॉलिंग एक्शन की शिकायत भी हो चुकी हैं. हालांकि, वे एक्शन सुधारते हुए फिर मैदान पर लौट आए हैं.

कुंबले के क्लब में शामिल हुए सिदक सिंह

19 साल के सिदक सिंह अपने इस प्रदर्शन के साथ ही दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले के उस क्लब में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने एक पारी में 10 विकेट झटके हैं. हालांकि, पूर्व कप्तान अनिल कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में ऐसा किया है. जबकि सिदक सिंह ने अंडर-23 क्रिकेट में यह कारनामा किया है.

कुंबले ने 19 साल पहले झटके थे 10 विकेट

लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने 1999 में दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में एक ही पारी में पाकिस्तान के सभी 10 बल्लेबाजों को आउट किया था. वे टेस्ट इतिहास में ऐसा करने वाले सिर्फ दूसरे गेंदबाज बने थे. उनसे पहले सिर्फ इंग्लैंड के जिम लेकर ही एक पारी में 10 विकेट ले सके हैं. जिम लेकर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह प्रदर्शन किया है. टेस्ट क्रिकेट में जिम लेकर और अनिल कुंबले के अलावा कोई भी क्रिकेटर एक पारी में 10 विकेट नहीं ले सका है.