आईसीसी में फिर शामिल हुआ अमेरिका, 105वां सदस्य बना

अमेरिका एक बार फिर इंटरनेशनल क्रिकेट कमेटी (आईसीसी) का सदस्य बन गया है. वह क्रिकेट की शीर्ष संस्था का 105वां सदस्य होगा. आईसीसी ने कुछ साल पहले अमेरिकी क्रिकेट संघ (USA Cricket) को हटाने के बाद एक बार फिर उसे अपनी सदस्य सूची में शामिल कर लिया है. आईसीसी (ICC) ने मंगलवार रात बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी.

आईसीसी के बयान के अनुसार, ‘अमेरिका ने 93वां एसोसिएट सदस्य बनने की अपील की थी. इसे आईसीसी के संविधान के मुताबिक मंजूर कर लिया है. आईसीसी की सदस्य समिति की पिछले बैठक में अमेरिका को सदस्य बनाने की सिफारश की गई थी, जिसे तत्काल प्रभाव से मान लिया गया है.’ आईसीसी के 12 पूर्ण सदस्य पहले से हैं. इस तरह अमेरिका आईसीसी का 105वां सदस्य बन गया है.

आईसीसी का सदस्य होने के नाते अब अमेरिका (USA Cricket) आईसीसी से मिलने वाली सुविधाएं पाने का हकदार हो जाएगा. वह  आईसीसी की विकास फंड नीति के अंतर्गत कोष प्राप्त करने के लिए योग्य होगा और वह अमेरिका में घरेलू व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट देने की स्वीकृति दे सकता है. आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डेविड रिचडर्सन ने कहा, ‘यह कड़ी मेहनत का नतीजा है और मैं इस मौके पर अमेरिकी क्रिकेट को बधाई देता हूं और भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी देता हूं.’

अमेरिका क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन पराग मराठे ने कहा, ‘अमेरिका क्रिकेट का गठन देश में क्रिकेट समुदाय को एक साथ लाना, खेल का विकास करना था. आज आईसीसी द्वारा हमें उसके सदस्यों की सूची में शामिल करना हमारे सफर की ओर उठाया गया बड़ा कदम है. मैं आईसीसी और इसके 104 सदस्यों को धन्यवाद कहना चाहता हूं, जिन्होंने यह विश्वास किया कि अमेरिका अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट खेलने में सक्षम है.

2004 में चैंपियंस ट्रॉफी में खेल चुका है अमेरिका 
अमेरिका दुनिया की उन 24 टीमों में शामिल है, जिन्होंने कभी ना कभी इंटरनेशनल वनडे मुकाबले खेले हैं. उसने अब तक दो वनडे मुकाबले खेले हैं. उसने ये मुकाबले 2004 में इंग्लैंड में हुई आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में खेले थे. इन मुकाबलों में ऑस्ट्रेलिया ने उसे 9 विकेट और न्यूजीलैंड ने 210 रन से हराया था.