ब्रिटेन ने नासिर जमशेद पर लगाया रिश्वत का आरोप

पाकिस्तानी क्रिकेटर और फिलहाल निलंबन झेल रहे नासिर जमशेद को ब्रिटेन की राष्ट्रीय अपराध शाखा(एनसीए) ने रिश्वत के दो मामलों में आरोपी पाया है जिसके लिये उन्हें 15 जनवरी को अदालत के सामने पेश होना होगा।

नासिर को मैनचेस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में पेश होने के लिये कहा गया है। जमशेद को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाये जाने के बाद फरवरी 2017 में गिरफ्तार किया गया था। इस वर्ष अगस्त में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड(पीसीबी) की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा ने पांच मामलों में जमशेद को दोषी करार देते हुये 10 वर्ष के लिये निलंबित किया था।

पीसीबी और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद(आईसीसी) की भ्रष्टाचार रोधक शाखा के साथ काम करने वाली एनसीए ने बताया कि ब्रिटेन में रह रहे जमशेद को क्राउन प्रोसेक्यूशन सर्विस की ओर से लिखित समन भेजा गया है। जमशेद के अलावा ब्रिटेन के दो अन्य नागरिकों यूसुफ अनवर और मोहम्मद इजाज को भी आरोपित किया गया है।

रिश्वत के आरोप में मजिस्ट्रेट कोर्ट की अदालत जुर्माने के साथ 12 महीने तक कैद की सज़ा सुना सकती है। एनसीए ने बयान में कहा,“ राष्ट्रीय अपराध शाखा ने पाकिस्तान और बंगलादेश के राष्ट्रीय क्रिकेट बाेर्डों द्वारा क्रिकेट मैचों में स्पॉट फिक्सिंग के मामले में जांच के बाद तीन व्यक्तियों को रिश्वत के मामले में आरोपी पाया है।”

पीसीबी ने इससे पहले 2017 के भ्रष्टाचार मामले में पांच खिलाड़ियों पर निलंबन लगाया था। इसमें शार्जील खान और खालिद लतीफ पर पांच पांच वर्ष का बैन लगाया गया था जबकि मोहम्मद नवाज, मोहम्मद इरफान और शाहजैब हसन पर भी बैन लगाया गया था।