World Cup 2019: रोहित शर्मा के शतक से जीता भारत, दक्षिण अफ्रीका ने बनाई हार की हैट्रिक

भारत ने बुधवार को आईसीसी विश्व कप (World Cup 2019) के अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) को छह विकेटों से हराया. भारतीय टीम (Team India) को जीत आसानी से नहीं मिली. दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों के सामने भारतीय बल्लेबाज रन करने के लिए संघर्ष करते दिखे. भारत को 228 रन का लक्ष्य मिला था जिसे वो संघर्ष करते हुए 47.3 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर सका. भारत की ओर से रोहित शर्मा (122*) ने नाबाद शतक बनाया. यह दक्षिण अफ्रीका की इस विश्व कप में लगातार तीसरी हार है. इससे उसकी सेमीफाइनल की उम्मीदों को झटका लगा है. हालांकि, वह अभी अंतिम-4 की रेस में बना हुआ है. लेकिन अब एक भी हार उसे इस रेस से बाहर कर सकती है.

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने 144 गेंदों पर 13 चौके और दो छक्के की मदद से नाबाद 122 रन की पारी खेली. रोहित ने संयम के साथ बल्लेबाजी की और जिससे उन्हें बाद में फायदा मिला. रोहित ने पहले 50 रन 70 गेंद में बनाए और अगले 50 रन 57 गेंदों पर. उनके जोड़ीदार शिखर धवन (8) भारत की तरफ से आउट होने वाले पहले बल्लेबाज थे. धवन को कैगिसो रबाडा की गेंद पर विकेट के पीछे क्विंटन डिकॉक ने लपका. कप्तान विराट कोहली भी गेंद को बल्ले पर सही तरीके से लेने के लिए जद्दोजहद करते दिखे. कोहली 34 गेंदों पर 18 रन बनाकर आउट हुए.

 

भारत का स्कोर 15.3 ओवरों के बाद दो विकेट के नुकसान पर 54 रन था. रनगति काफी धीमी थी और दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज आसानी से रन नहीं दे रहे थे. रोहित को दूसरे छोर से साथ की जरूरत थी. चौथे नंबर पर आए लोकेश राहुल ने अपने उप-कप्तान का बखूबी साथ दिया. दोनों ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 85 रन की साझेदारी की. यहां से मैच भारत की तरफ जाना शुरू हो गया था. इस जोड़ी से उम्मीदें बंध चुकी थीं तभी राहुल, रबाडा की गेंद में फंस गए और फाफ डू प्लेसिस को कैच दे बैठे. राहुल ने 42 गेंदों पर 26 रन बनाए और सिर्फ दो चौके मारे.

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज रोहित को अब परेशान नहीं कर पा रहे थे. रोहित को अब टीम के सबसे अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का साथा मिला. दोनों ने धीरे-धीरे टीम को लक्ष्य के पास पहुंचाना शुरू किया. इसी बीच रोहित ने 41वें ओवर की चौथी गेंद लेकर अपना शतक पूरा किया. यह रोहित का कुल 23वां और विश्व कप में दूसरा शतक है. रोहित का शतक बनने तक भारत की जीत पक्की हो चुकी थी. दक्षिण अफ्रीका राहुल के बाद सिर्फ एमएस धोनी का विकेट लेने में सफल रहा. धोनी 213 के कुल स्कोर पर पैवेलियन लौटे. उन्होंने आउट होने से पहले रोहित के साथ 74 रन की साझेदारी की. धोनी ने 46 गेंदों पर 34 रन बनाए. धोनी के आउट होने के बाद हार्दिक पांड्या क्रीज पर आए. उन्होंने सात गेंदों पर तीन चौके मार नाबाद 15 रन बनाए. उन्हीं के चौके से भारत ने जीत हासिल की.

इससे पहले भारतीय गेंदबाजों ने भी टॉस जीतने वाली दक्षिण अफ्रीका को भी आसानी से रन नहीं बनाने दिए. युजवेंद्र चहल की अगुआई में भारतीय गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को परेशान किया. लेकिन में अंत में क्रिस मॉरिस (42) और कैगिसो रबाडा (नाबाद 31) के बीच आठवें विकेट के लिए 66 रन की साझेदारी के दम पर दक्षिण अफ्रीका भारत के सामने 228 का लक्ष्य रख पाने में सफल रहा.

 

इस मैच में चहल और उनके जोड़ीदार चाइनामैन कुलदीप यादव ने एक बार फिर बीच के ओवरों में बल्लेबाजों को रनों के लिए तरसाया और दबाव बनाकर विकेट निकाले. चहल ने चार विकेट अपने नाम किए, कुलदीप को हालांकि एक ही विकेट मिला. चहल से पहले दक्षिण अफ्रीका को बुमराह का कहर झेलना पड़ा. बुमराह ने दक्षिण अफ्रीका के दोनों ओपनरों हाशिम अमला (6) और क्विंटन डिकॉक (10) को पैवेलियन लौटाया.

इसके बाद चहल ने चार बल्लेबाजों को अपनी फिरकी में फंसाया. उन्होंने रासी वान डर डुसेन (22) और फाफ डू प्लेसिस (38) को चलता किया. जेपी डुमिनी (3) को कुलदीप ने शिकार बनाया. डेविड मिलर (31) और एंडिले फेहलुक्वायो (34) को को चहल ने आउट किया. दक्षिण अफ्रीका ने सात विकेट 158 के कुल स्कोर पर ही गंवा दिए थे. यहां से मॉरिस और रबाडा ने  अपनी टीम को 200 के पार पहुंचाया.  चहल के चार विकेट के अलावा बुमराह और भुवनेश्वर ने दो-दो विकेट लिए.